मायावती ने फिर किया पलटवार

लखनऊ। बीएसपी सुप्रीमो मायावती और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच इन दिनों बहसबाजी तीखी हो गई है. इससे यह साफ नजर आ रहा है कि मायावती खुद को प्रधानमंत्री उम्मीदवार के रूप में प्रॉजेक्ट कर रही हैं. इसका अंदाजा पीएम मोदी और उनके बीच इन दिनों चल रही बहसबाजी में भी नजर आता है. यूपी की चुनावी रैलियों में मायावती और गठबंधन पर हमला बोलते हैं तो बीएसपी चीफ भी उन पर पलटवार करने से पीछे नहीं हटतीं.

पीएम मोदी के बेनामी संपत्ति के आरोप के जवाब पर मायावती ने कहा कि सबसे ज्यादा बेनामी संपत्ति वाले लोग बीजेपी से जुड़े हैं. इनका हिसाब-किताब कालीन के अंदर छिपा है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जनहित और देशहित के मामले में बीएसपी अध्यक्ष फिट हैं और इसकी तुलना में मोदी अनफिट हैं. राष्ट्रीय स्तर पर खुद को पेश करने की कोशिश में जुटी मायावती इन दिनों खुलकर पीएम मोदी पर निशाना साध रही हैं.

मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘पीएम मोदी शालीनताओं को पार कर चुके हैं, वह बीएसपी को बहनजी की संपत्ति पार्टी कहने में घबराते नहीं है. बीएसपी की राष्ट्रीय अध्यक्ष के पास जो कुछ भी है वह शुभचिंतकों और समाज के लोगों ने दिया है और सरकार से कुछ भी छिपा नहीं है.’ उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि सबसे ज्यादा बेनामी संपत्ति वाले भ्रष्ट लोग बीजेपी से जुड़े हैं.

‘सिर्फ कागजों पर ईमानदार हैं मोदी’
मायावती ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा, ‘मोदी सिर्फ कागजों पर ही ईमानदार नजर आते हैं, ठीक ओबीसी के दावे की तरह. मोदी वास्तव में कुछ हैं और जनता के सामने कुछ और बनने की कोशिश करते हैं. इनका हिसाब-किताब कालीन के अंदर छिपा रहता है.’ मायावती ने कहा कि बीजेपी और पीएम मोदी ने पिछले 5 साल में बीएसपी को बदनाम करने की हर कोशिश लेकिन विफल रही, क्योंकि उनका हिसाब खुली किताब की तरह है.

‘दलितों को आगे बढ़ते हुए नहीं देखना चाहते मोदी’
मायावती ने यह भी कहा, ‘विदेशों से कालाधन न ला पाने के पीछे इनकी क्या राजनीति है, यह देश अच्छी तरह जानता है. मायावती ने पीएम मोदी के दलित की नहीं दौलत की बेटी के आरोप पर कहा, यह उनका असली चेहरा दिखाता है जिनकी मानसिकता दलितों के प्रति घोर जातिवादी है. ये लोग सदियों से पीड़ित शोषित समाज को थोड़ा भी आगे बढ़ना नहीं देखना चाहते. आरक्षण का विरोध करते हैं जिसमें बीजेपी नंबर एक पर है.’

‘पीएम के रूप में मोदी की विरासत काला धब्बा जैसी’
मायावती ने आगे कहा, ‘मैं यूपी की चार बार सीएम रही हूं लेकिन मेरी शानदार विरासत रही है. बीएसपी सरकार के समय यूपी की कानून और शासन व्यवस्था की लोग आज भी तारीफ करते नहीं थकते.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मोदी मुझसे ज्यादा समय तक सीएम रहे लेकिन उनकी विरासत ऐसी रही कि जो बीजेपी और देश की संप्रभुता पर काला धब्बा है.’

‘पब्लिक ऑफिस होल्ड करने में विफल मोदी’
मायावती ने कहा, ‘इससे पता चलता है कि जनहित और देशहित के मामले में बीएसपी अध्यक्ष कितनी फिट हैं और इसकी तुलना में मोदी कितने अनफिट हैं. हमारी सरकार में यूपी दंगा और अराजकता से मुक्त रहा है जबकि मोदी का गुजरात में ही नहीं पीएम के रूप में भी कार्यकाल नफरत, घृणा और अराजकता से भरा रहा है. वह पब्लिक ऑफिस होल्ड करने में विफल रहे हैं.’

‘महामिलावटी लोगों के पास नामी और बेनामी संपत्तियों का अंबार’
बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को विपक्षियों पर निशाना साधते हुए कहा था कि महामिलावटी लोगों के पास नामी और बेनामी संपत्तियों का अंबार लगा हुआ है. मोदी ने एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि महामिलावटी लोगों ने राजनीति के नाम पर अपने और अपने रिश्तेदारों के लिए बंगले खड़े किए. नामी और बेनामी संपत्तियों का अंबार लगाया. एजेंसियां इसका हिसाब ले रही हैं. इसीलिए ये लोग एक-दूसरे के साथ आने को मजबूर हो गए हैं.

Read it also-जाति को लेकर BSP मुखिया मायावती का एक बार फिर PM मोदी पर हमला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.