बहनजी की बड़ी घोषणा, बताया क्या होगा यूपी चुनाव में बसपा का चुनावी नारा

बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ऐसी नेता हैं, जो आमतौर पर खामोश रहकर जमीन पर काम करना पसंद करती हैं। वह न तो मीडिया में अपने कामों का ढिंढ़ोरा पीटती हैं और न ही बात-बात पर अखबारों और चैनलों के भरोसे रहती है। लेकिन बहनजी जब भी बोलती हैं, देश की सियासत में हलचल मच जाती है। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों को लेकर बसपा प्रमुख ने सोमवार 28 जून को बड़ा ऐलान किया है। लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए बसपा मुखिया ने आगामी यूपी विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के नारे की घोषणा कर दी है। 2022 यूपी विधानसभा चुनाव में बसपा का नारा होगा- “यूपी को बचाना है, सर्वजन को बचाना है, बसपा को सत्ता में  लाना है।”

पार्टी के नारे की घोषणा करने के बाद बहनजी ने हुंकार भरते हुए कहा कि विपक्षी पार्टियां और मीडिया बसपा को कम कर के न आंके। इस दौरान बहनजी ने सपा और भाजपा दोनों पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा- बीजेपी उसी तौर-तरीके से काम कर रही है, जैसा समाजवादी पार्टी करती थी। इस दौरान उन्होंने ऐलान किया कि बसपा जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव नहीं लड़ेगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट जाने का ऐलान किया। बहनजी खुद लखनऊ में मौजूद हैं और पार्टी की जमीनी तैयारियों का लगातार जायजा ले रही हैं।

इससे पहले बीते कल 27 जून को बसपा प्रमुख ने साफ किया था कि उत्तर प्रदेश के चुनाव में वह किसी भी पार्टी से गठबंधन नहीं करेंगी, और बसपा अकेले चुनाव मैदान में आएंगी। उन्होंने मीडिया में बसपा और ओवैसी की पार्टी AIMIM के बीच गठबंधन की अटकलों को सिरे से खारिज किया था और मीडिया को भी चेताया था। उन्होंने बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद सतीश चन्द्र मिश्र को बीएसपी मीडिया सेल का राष्ट्रीय कोओर्डिनेटर बनाने का ऐलान किया था और किसी भी खबर के संबंध में उनसे बात करने की सलाह दी थी। फिलहाल उत्तर प्रदेश के चुनाव के लेकर अपने नारे का ऐलान करने वाली बसपा पहली पार्टी बन गई है। इससे साफ है कि बसपा और उसकी मुखिया मायावती जमीनी तौर पर उत्तर प्रदेश चुनाव की तैयारियों में जुट चुकी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.