बच्चों के आंसूओं ने रूकवाया भगवान टीचर का ट्रांसफर

0
1578
facebook

नई दिल्ली। एक शिक्षक के मेहनत व मोहब्बत ने ऐसा असर दिखाया कि बच्चे शिक्षक की ट्रांसफर की खबर पाकर इतना रोए इतना रोए… कि आखिरकार शिक्षक का ट्रांसफर रोकना पड़ा. बच्चों को जैसे ही खबर पता चली और वे टीचर को जाता देख घेर-पकड़कर रोने लगे. इस नजारा को देखकर स्कूल के आसपास लोगों का हुजूम उमड़ आया और नजारा देखकर लोगों की आंखे भी भर आईं. वाकई ऐसा नजारा विरले ही देखने को मिलता है.

फिर क्या था चेन्नई के तिरुवल्लूर में विलियाग्राम सरकारी स्कूल के करीब सौ बच्चों व एक अंग्रेजी टीचर की मार्मिक तस्वीर सोशल मीडिया पर दौड़ने लगी. शिक्षक व शिष्य प्रेम को देखकर सोशल मीडिया पर भी जमकर तारीफ हो रही है.

बच्चों के साथ अभिभावक भी

प्राप्त जानकारी के मुताबिक विलियाग्राम सरकारी स्कूल के लगभग 100 से ज्यादा बच्चों ने अपने टीचर के ट्रांसफर का विरोध शुरु कर दिया. बच्चों के साथ-साथ अभिवावकों ने भी टीचर के ट्रांसफर का विरोध किया. इसके बाद स्कूल प्रशासन को अपने अधिकारियों से भगवान के ट्रांसफर ऑर्डर को दस दिनों के लिए रोकने को कहना पड़ा.

प्रिंसीपल ए अरविंदन ने बताया कि भगवान उनके स्कूल के सबसे बेहतरीन टीचर हैं. 28 साल से जी. भगवान स्कूल के अंग्रेजी टीचर हैं. सरकारी स्कूलों में टीचर-स्टूडेंस के अनुपात को बनाए रखने के लिए सामान्य ट्रांसफर प्रक्रिया के तहत जी भगवान के नाम की भी घोषणा हुई. स्कूल प्रिंसीपल ने बताया कि भगवान स्कूल में क्लास 6 से 10 तक के बच्चों को अंग्रेजी पढ़ाते हैं. उनके ट्रांसफर ऑर्डर के बाद स्कूल में उनकी जगह नया टीचर आया और उसने 10 बजे स्कूल ज्वाइन कर लिया.

इसे भी पढ़ें-‘राइजिंग कश्मीर’ के संपादक के बेटे का लेख पढ़कर रो पड़ोगे

  • दलित-बहुजन मीडिया को मजबूत करने के लिए और हमें आर्थिक सहयोग करने के लिये दिए गए लिंक पर क्लिक करें https://yt.orcsnet.com/#dalit-dastak 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.