योगी सरकार ने छोटा किया मुलायम-अखिलेश का काफिला

Mulayam Singh

लखनऊ। योगी आदित्यनाथ सरकार ने समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव और राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के काफिले में शामिल 3-3 स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल (एसयूवी) को वापस लेने का निर्णय लिया है. दरअसल, एसयूवी की मांग अधिक होने की वजह से यह फैसला लिया गया है. वर्तमान में पूर्व मंत्री की हैसियत से इन दोनों नेताओं के काफिले में वन प्लस फाइव एसयूवी है.

राज्य संपत्ति अधिकारी योगेश शुक्ला ने बताया कि अखिलेश और मुलायम के काफिले में तीन-तीन एसयूवी अधिक थी. ये गाड़ियां पूर्व मुख्यमंत्री के काफिले में एस्कॉर्ट के रूप में चलती हैं. मुख्य गाड़ी जिनमें अखिलेश और मुलायम चलते हैं, उसमें कोई परिवर्तन नहीं किया गया है. जो एसयूवी उनके काफिले से ली जा रही है, उनके स्थान पर एम्बेसडर गाड़ियां दी जाएंगी.

शुक्ला ने बताया कि अब सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों के काफिले में एक सामान गाड़ियां रहेंगी. इनमें वन प्लस टू एसयूवी और तीन एम्बेसडर होगी. राज्य संपत्ति विभाग के अधिकारी का कहना है कि एसयूवी की डिमांड ज्यादा है और विभाग के पास एसयूवी कम है. लिहाजा ये कटौती करनी पड़ रही है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा नेता मुलायम सिंह पर मेहरबानी दिखाते हुए उन्हें अपनी पसंदीदा मर्सिडीज रखने की छूट दी है. योगी ने पहले ही मुलायम सिंह यादव की मर्सिडीज हटाने से मना कर दिया था कि नेताजी की इच्छा के बगैर उसे नहीं हटाया जाए.

सिर्फ अखिलेश और मुलायम ही नहीं बल्कि मायावती और राजनाथ सिंह के सरकारी काफिले को भी छोटा किया गया है और अब सभी सरकारी काफिलों में 5 एसयूवी की जगह दो एसयूवी और तीन एंबेसडर चलेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here