डायन बताकर महिला को मार डाला, पंचो ने स्नान करवाकर धो दिए ‘पाप’

अजमेर। अजमेर जिले के केकड़ी कस्बे में चौंकाने वाली और शर्मनाक घटना हुई. केकादेड़ा कस्बे में महिला को डायन बताकर हत्या कर देने के मामले में रविवार (13 अगस्त) देर रात पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो महिलाओं सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के अनुसार शाहपुरा स्थित कारखाना के पास रेगर बस्ती निवासी चंद्रप्रकाश, कादेड़ा स्थित रेगर मोहल्ला निवासी महावीर, सोनिया, पिंकी और गोपीचंद को गिरफ्तार किया है.

3 अगस्त को कादेड़ा में कन्यादेवी रैगर को उसके ससुराल के ही सदस्यों ने डायन घोषित कर उस पर अत्याचार शुरू किए. उसे सांकलों से बांधा और जलते अंगारों से झुलसाया गया. उसे मल तक खिलाया गया. घायल कन्यादेवी इस अत्याचार को सह नहीं पाई और उस समय अचेत हो गई. अगले दिन शाम को उसकी मौत हो गई. मामले को दबाने की कोशिश की गई और गुपचुप अंतिम संस्कार कर दिया गया.

40 वर्षीय कन्या देवी के पति की मौत क्या हुई, परिवार के लोग ही जान के दुश्मन बन गए. उसे डायन बताया गया. फिर शुरू कर दिया अमानवीय यातनाओं का दौर. लोहे की चेन से बुरी तरह पीटा गया. कपड़े उतरवाकर मोहल्ले में घुमाया गया. आंख और दोनों हाथ को अंगारों से दाग दिए. इससे भी मन नहीं भरा तो धधरते अंगारों पर बिठा दिया. बुरी तरह से घायल कन्या देवी की अगले दिन मौत हो गई.

घटना पर पर्दा डालने के लिए आनन-फानन में उन्हीं लोगों ने अंतिम संस्कार भी करा दिया. इसके बाद जो हुआ वह और भी चौंकाने वाला था. पंच पटेलों ने महिला की मौत के लिए जिम्मेदार लोगों के तो सारे गुनाह माफ कर दिए. कहा- पुष्कर सरोवर में स्नान करो और गायों के लिए एक बोरी अनाज, एक ट्रैक्टर चारा और पांच टैंकर पानी देकर ‘पापमुक्त’ हो जाओ.

दूसरी ओर, पीड़ित परिवार को पाबंद कर दिया कि किसी को इस बारे में बताया तो समाज से बाहर कर देंगे. गनीमत रही कि महिला के एक रिश्तेदार महादेव ने शनिवार को यह मामला पुलिस तक पहुंचा दिया.

मृतका के बेटे कालूराम ने घटना के बारे में बताया. कालूराम ने कहा कि रात के 11 बजे थे. हम आंगन में सो रहे थे. तभी वो लोग आए और मां की चोटी पकड़क घसीटने लगे. मां चिल्लाई तो लोहे की चेन से मारना शुरू कर दिया. कहा- चलानिया भैरूजी का भाव आया है. तू डाकन (डायन) है. मैं रोने लगा तो मुजे एक कमरे में बंद कर दिया. मां चीखती रही. कभी हाथों में अंगारे रख दिए, कभी आग पर बिठा दिया. मैं चाहता हूं कि मेरी मां को मारने वाले लोगों को कड़ी सजा मिले.

साभारः दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here