हमले की आशंका थी तो अमरनाथ यात्रियों को क्यों नहीं बचा पायी मोदी सरकार: ओवैसी

हैदराबाद। अमरनाथ यात्रियों पर आतंकवादी हमले के बाद नेताओं के बयान लगातार आते रहे हैं जिसमें मोदी सरकार की नाकामियों की चौतरफा निदां हो रही है. ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मोदी सरकार से पूछा है कि जब यात्रियों पर हमले की आशंका की खुफिया सूचना थी, फिर वह उन्हें बचाने में क्यों नाकाम रही.

ओवैसी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के सत्ता में आने के बाद अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर दूसरी बार हमला हुआ है. उन्होंने मांग की कि सरकार को इस बात का जवाब देना चाहिए कि हमले की आशंका की खुफिया सूचना के बावजूद वह उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने में क्यों नाकाम रही. इससे जुड़ी खबर मीडिया में भी 26 जून को आई थी.

ओवैसी ने कहा, “यही समय है, जब केंद्र में भाजपा अपनी दिशा में सुधार करे.” उन्होंने आरोप लगाया कि लश्कर-ए-तैयबा तथा पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ मिलकर सलाहुद्दीन कश्मीर घाटी में 2008 जैसे हालात पैदा करना चाहता है.

हमले की कड़ी निंदा करते हुए उन्होंने कहा कि निर्दोष श्रद्धालुओं की मौत पर राजनीतिक रोटियां सेंकने का प्रयास करने वाले लोगों को जनता द्वारा समझ जाना बहुत जरुरी है और कश्मीर की नासूर समस्या को खत्म करने का उपाय ढूढना अब जरुरी हो गया है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here