लड़की के मिनी स्कर्ट पहनने पर लोगों ने सरकार से की गिरफ्तारी की मांग

Women in Saudi Arbia

दुबई। मिनी स्‍कर्ट व क्रॉप टॉप पहने सऊदी युवती के एक वीडियो से सऊदी अरब में सनसनी फैल गयी है. वायरल होने वाले इस वीडियो को युवती ने खुद ही पोस्‍ट किया है. इसके बाद कुछ सऊदी जहां उसकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे वहीं कुछ उसके बचाव में हैं.

स्‍थानीय न्‍यूज वेबसाइट ने सोमवार को बताया कि रूढ़िवादी इस्‍लामिक देशों में इस युवती के खिलाफ संभावित कार्रवाई पर विचार किया जा रहा है जिसने कपड़े के लिए देश के कायदे कानून का उल्‍लंघन किया है. सऊदी में महिलाओं को सार्वजनिक तौर पर अबाया के नाम से जाना जाने वाला लंबा और ढीला वस्‍त्र पहनना होता है. साथ ही काले कपड़े से अपने बाल और चेहरे को ढकना होता है हालांकि कुछ विशेष लोगों के लिए इसमें रियायत है.

यह वीडियो पहले स्‍नैपचैट पर शेयर किया गया जिसमें उसे रियाध के उशायकिर में सुनसान ऐतिहासिक किले के भीतर टहलते हुए दिखाया गया. माना जाता है कि यह सऊदी अरब का सबसे रूढ़िवादी इलाका है. 18वीं सदी में इसी जगह पर सुन्नी वहाबी इस्लाम के प्रवर्तक पैदा हुए थे. सऊदी अरब का राज परिवार और धार्मिक संगठन सुन्नी इस्लाम के सबसे कट्टर माने जाने वाले वहाबी पंथ को मानते हैं.

ट्वीटर पर कोई युवती की गिरफ्तारी की मांग कर रहा है तो कोई ड्रेस की स्‍वतंत्रता का हवाला दे इसे अपराध नहीं बता रहा है. फातिमा अल-इस्सा नाम की एक महिला ने इस वीडियो के समर्थन में लिखा, “अगर ये लड़की विदेशी होती तो अब तक उसकी कमर और आंखों के कसीदे पढ़े जाते पर चूंकि वो एक सऊदी है तो उसको गिरफ्तार करने की बातें हो रही हैं.”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here