ऊंची जाति से होना चाहिए उपराष्ट्रपति उम्मीदवार: RSS

नई दिल्ली। अब उपराष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने भी अपनी जुबानबाजी चालू कर दी है. आरएसएस प्रमुख उपराष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए एनडीए की तरफ से दक्षिण भारत के ‘ऊंची जाति’ के उम्मीदवार को खड़ा करने के पक्ष में है. समाचार एजेंसी आईएएनएस के सूत्रों के मुताबिक, आरएसएस ने यह सुझाव इसलिए दिया है क्योंकि सत्ताधारी एनडीए ने दलित समुदाय से ताल्लुक रखने वाले रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया है, जो उत्तर भारत से हैं.

बीजेपी के सूत्रों का कहना है कि आरएसएस की पंसद महाराष्ट्र के राज्यपाल सी.विद्यासागर राव हैं, जो इस पद के लिए दौड़ में सबसे आगे निकल सकते हैं, क्योंकि उनके पास सार्वजनिक जीवन का बड़ा अनुभव है. तेलंगाना से बीजेपी के वरिष्ठ नेता राव अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री, केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग राज्य मंत्री रह चुके हैं.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर चर्चा के लिए आरएसएस के दो वरिष्ठ नेताओं भैय्याजी जोशी और कृष्ण गोपाल से मुलाकात की. उपराष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 5 अगस्त को होना है.
सूत्रों के अनुसार, तीनों नेताओं ने दिल्ली में आरएसएस के मुख्यालय केशव कुंज में मुलाकात की. इनके बीच डेढ़ घंटे से ज्यादा वक्त तक चर्चा हुई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here