वर्णिका कुंडू के समर्थन में आए सहवाग, भाजपा अध्यक्ष के बेटे को मिलनी चाहिए सजा

चंडीगढ़। हरियाणा के भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला पर आईएएस की बेटी से छेड़छाड़ के मामले में चंडीगढ़ पुलिस की ढीली कार्रवाई पर सवाल उठ रहे हैं. विक्टिम वर्णिका का कहना है कि किसी गाड़ी का पीछा करना, उसकी गाड़ी को रोकने की कोशिश करना और गाड़ी पर हाथ मारना यह किडनैपिंग की कोशिश नहीं तो और क्या है? बता दें कि वर्णिका बार-बार यह आरोप लगाती रही हैं कि उसके अपहरण की कोशिश हुई है. इसके बाद भी पुलिस ने किडनैपिंग के प्रयास की धारा 365/511 के तहत केस दर्ज नहीं किया.

शनिवार तक चेहरा छिपाकर मीडिया से बात कर रही पीड़िता ने चेहरे से नकाब हटाते हुए राजनीतिक दबाव के सामने झुकने से इनकार किया. उन्होंने कहा कि वह आखिरी दम तक लड़ेंगी, क्योंकि यह लड़ाई सिर्फ उनके लिए नहीं बल्कि सभी बेटियों की सुरक्षा के लिए है. इस बीच उनकी एक पुरानी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी गई.

वर्णिका के साथ हुई छेड़छाड़ के मामले में निष्पक्ष जांच के समर्थन में पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग भी उतर आए हैं. सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर हमेशा एक्टिव रहने वाले वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट के जरिए इस मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है. साथ ही उन्होंने लड़कियों के साथ छेड़छड़ करने वाले मनचलों की नसीहत भी दी है.

सहवाग ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि चंडीगढ़ का वकिया शर्मनाक है. बिना किसी के प्रभाव के निष्पक्ष जांच होनी चाहिए. कोई भी हो. कायदे में रहोगे तो फायदे में रहोगे. सहवाग के इस ट्वीट से साफ है कि उनका इशारा हरियाणा भाजपा के चीफ सुभाष बराला के बेटे विकास बराला की ओर है जिनके ऊपर अपने दोस्त के साथ वर्णिका का पीछा और छेड़छाड़ करने का आरोप है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here