छेड़छाड़ और यौन उत्पीड़न में मिली 105 साल की सजा

लॉस एंजेलिस। अमेरिका में एक स्कूल कोच को सात नाबालिग छात्राओं के यौन उत्पीड़न के जुर्म में 105 साल जेल की सजा सुनाई गई है. लॉस एंजिलिस काउंटी सुपीरियर कोर्ट ने मंगलवार को कैलिफोर्निया के दो जूनियर स्कूल में कोच रहे रोनी ली रोमन (44) को इस अपराध के लिए तय अधिकतम सजा सुनाई.

डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी ऑफिस के अनुसार, सात जून को रोमन को सात नाबालिग लड़कियों के यौन उत्पीड़न का दोषी करार दिया था. उसने छह अपराधों को स्कूल के मैदान पर अंजाम दिया था, जबकि सातवें अपराध को एक पीड़ित के घर पर अंजाम दिया था. साल 2002 में कोरियाटाउन के काएंगा एलीमेन्ट्री स्कूल और हॉलीवुड के वाइन एलीमेंट्री में काम करने के दौरान उसने आठ से 11 साल की लड़कियों के साथ छेड़छाड़ की थी.

पीड़ित लड़कियों की उम्र आठ से ग्यारह वर्ष थी. सरकारी वकील के अनुसार रोनी वर्ष 2002 से ही इस घृणित कृत्य में लिप्त था.

उसने कोरियाटाउन के काहेंगा एलिमेंट्री स्कूल और हॉलीवुड के वाइन एलिमेंट्री स्कूल में कोच रहते ये अपराध किए थे. उसने छह छात्राओं का स्कूल के मैदान पर जबकि एक का उसके घर पर यौन उत्पीड़न किया था.

अमेरिका के कैलिफोर्निया में एक पूर्व स्कूल कोच को स्कूल में हुए कार्यक्रम के बाद 7 बच्चियों के साथ छेड़छाड़ के जुर्म में 105 साल की सजा सुनाई गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here