जातिवादी गुंडों ने दलित को नंगा कर पीटा, कुकर्म का भी किया प्रयास

हिसार। भाजपा राज में दलितों पर अत्याचार बढ़ता ही जा रहा है. यूपी, एमपी के बाद अब घटना हरियाणा के हिसार की है. हांसी-बरवाला मार्ग पर घिराय गांव के खेतों में चैनत गांव के एक दलित युवक की जातिवादी गुंडे द्वारा खेत से गुजरने पर नंगा करके पिटाई करने का मामला सामने आया है. जातिवादियों की मारपीट से घायल युवक ने हांसी के सरकारी अस्पताल में उपचार के दौरान जातिवादी गुंडों पर कुकर्म के प्रयास का भी आरोप लगाया है. पीड़ित की गंभीर हालत को देखते हुए उसे हिसार रेफर कर दिया गया है.

चैनत गांव के रहने वाले दलित ने अस्पताल में उपचार के दौरान घटना की जानकारी दी. उसने बताया कि वह खेतीबाड़ी का काम करता है. वह शनिवार(22 जुलाई) की शाम को खेत से चारा लेकर घर आ रहा था. रास्ते में उच्च जाति के लोगों ने खेत से निकलने की बात कहकर उसे पकड़ लिया और उसकी पिटाई शुरू कर दी. युवक ने बताया कि जातिवादी गुंडों ने उसके कपड़े उतारकर उसे निर्वस्त्र कर दिया. युवक ने आरोप लगाया कि उसके साथ कुकर्म का प्रयास भी किया गया. जातिवादियों के चंगुल से निर्वस्त्र अवस्था में निकलकर वह किसी तरह गांव में पहुंचा और परिजनों को पूरी घटना की जानकारी दी.

युवक के भाई ने बताया कि पीड़ित भाई को घायल हालत में सरकारी अस्पताल में ले जाया गया जहां गंभीर हालत होने पर उसे हिसार रेफर कर दिया गया.

नजदीक के घिराय गांव में दलित युवक से मारपीट की घटना के बाद घायल युवक को इलाज के लिए हांसी व सिसाय गांव के सरकारी अस्पताल में दो-तीन घंटे तक भटकना पड़ा. इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में पहुंचे युवक को सिसाय गांव के प्राथमिक चिकित्सा केंद्र का क्षेत्र होने की बात कर हांसी के सरकारी अस्पताल के डाक्टरों ने सिसाय भेज दिया. सिसाय के डाक्टरों ने घटना का क्षेत्र हांसी के अंतर्गत होने की बात कर हांसी भेज दिया. इसके बाद घायल युवक इलाज के लिए फिर हांसी के सरकारी अस्पताल में पहुंचा. ड्यूटी पर तैनात डाक्टरों द्वारा इलाज करने से इंकार करने के बाद मीडिया के दबाव के बाद डाक्टरों ने करीब तीन घंटे बाद युवक का प्राथमिक उपचार किया और गंभीर हालत होने पर उसे हिसार रेफर कर दिया.

पंजाब केसरी के मुताबिक सदर थाना प्रभारी उदयभान ने बताया कि घिराय गांव में दलित युवक को निर्वस्त्र कर मारपीट के मामले को लेकर कोई लिखित या मौखिक शिकायत थाने में नहीं पहुंची है. अब जानकारी मिली है तो पुलिस खुद अस्पताल में उपचाराधीन युवक के बयान दर्ज कर अभियुक्तों के खिलाफ मामला दर्ज करने की कार्रवाई करेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here