आगरा में दलित परिवार पलायन को मजबूर

agra

आगरा। उत्तर प्रदेश में दलितों पर अत्याचार रूकने का नाम नहीं ले रहा है. राज्य के हर जिले से दलितों के साथ मारपीट-भेदभाव की खबरें आए दिन आ रही है. इसी क्रम में आगरा के बरनाहल थाना क्षेत्र के विनायकपुर में मनुवादियों के अत्याचार से पीड़ित दलित परिवार गांव से पलायन करने को मजबूर है.

दरअसल, शनिवार(18 नवंबर) की रात गांव की महिला प्रधान के पति और उसके साथियों ने दलित परिवार को बंदूक के दम पर धमका कर उनकी जमीन पर भगवान की मूर्ति स्थापित कर दी. जब दलित परिवार ने इसका विरोध किया तो मनुवादियों ने हवा में फायरिंग कर दी. जिससे दलित परिवार डर गया.

विधवा पीड़िता अनीता देवी ने बताया कि दो दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस ने अभी तक भगवान की मूर्ति नहीं हटवाई है. परिवार दहशत में है. उन्होंने आगे कहा कि अगर पुलिस कार्रवाई नहीं करती है तो परिवार गांव से पलायन करने को मजबूर होगा.

पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने ग्राम प्रधान के पति शिवानंद यादव, गौरव, मुनीश, अवनीश, यशपाल, अजय उर्फ चांदा, सोनेलाल, संजय और रमनकांत के खिलाफ एससी/एसटी समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है. लेकिन अभी तक जमीन पर स्थापित की गई मूर्ति को नहीं हटवा पाई है और ना ही किसी आरोपी को गिरफ्तार कर पाई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here