जामिया यूनिवर्सिटी में होगी ‘ऐरोनॉटिक्स’ की पढ़ाई

नई दिल्ली। हवाई जहाज की दुनिया में अपना करियर देखने वालो के लिए यह बड़ी खबर आयी है. ऐरोनॉटिक्स’ जैसे विषय में रूची रखने वाले छात्रों के जल्द ही जामिया कार्स शुरू करेगा. बता दें की जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में 3 साल का डिग्री कोर्स शुरू होने वाला है. इसी अकादमिक सेशन से बीएससी ऐरोनॉटिक्स डिग्री की पढ़ाई शुरू होगी. जामिया इस कोर्स को पवन हंस लिमिटेड के साथ शुरू करेगा. यूनिवर्सिटी ने बताया कि जामिया पहली ऐसी सेंट्रल यूनिवर्सिटी है जो ऐविएशन सेक्टर में इस तरह का कोर्स ला रही है.

आपको बता दें कि बीएससी ऐरोनॉटिक्स तीन साल की डिग्री का कोर्स होगा जिसमें ग्रेजुएशन डिग्री जामिया की ओर से दी जाएगी और ‘एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस इंजीनियरिंग’ में सर्टिफिकेट डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल ऐविएशन की ओर से दिया जाएगा. इस कोर्स का थियोरी पार्ट फैकल्टी ऑफ इंजीनियरिंग में पढ़ाया जाएगा और प्रैक्टिकल ट्रेनिंग पवन हंस लिमिटेड की ओर से दी जाएगी.

इस कोर्स में अप्लाई करने के लिए साइंस और गणित कॉम्बिनेशन के साथ 12वीं कक्षा पास करना जरूरी है. इस कोर्स में एडमिशन एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर होगा. फिलहाल कोर्स का सिलेबस तय किया जा रहा है. आने वाले दो महीने के अंदर ही इसके शुरू होने की उम्मीद है जिसका नोटिफिकेशन जामिया की वेबसाइट पर छात्रों को प्राप्त हो जायेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here