उजाला नहीं कर पाई सलमान खान की फिल्‍म ‘ट्यूबलाइट’

नई दिल्ली। आज सिनेमाघरों में सलमान खान की बहुप्रतीक्षित फिल्म ‘ट्यूबलाइट’ रिलीज हुई है. दो सुपरहिट फिल्‍में देने के बाद इस बार कबीर खान और सलमान खान की जोड़ी ने हॉलीवुड की फिल्म ‘ए लिटिल ब्वॉय’ से प्रेरित होकर इस फिल्म की कहानी पर्दे पर दर्शाने की कोशिश की है.

इस फिल्म सलमान खान जिस अवतार में नजर आ रहे हैं उस अवतार में उन्हें पहले कभी नहीं देखा गया है. इस फिल्म में सलमान न तो अपनी शर्ट उतारने वाले हैं और न ही अपना मसल्स दिखाएंगे. लेकिन इस फिल्म में सलमान आपको बोर नहीं होने देंगे.

कहानी में एक वक्त ऐसा आता है कि भरत की नौकरी आर्मी में लग जाती है और 1962 के भारत-चीन युद्ध के दौरान उसे जाना पड़ता है और जिसके वापस आने की कोई उम्मीद नहीं होती. फिर यहां से शुरू होता है फिल्म का इमोशनल पल. इसके बाद लक्ष्मण पूरी तरीके से भावुक हो जाता है और उसकी बस यही एक कोशिश होती है कि किसी तरह वह अपने भाई को वापस ला सके.

इस यकीन में लक्ष्मण का समय-समय पर साथ देते हैं बन्ने खान चाचा (ओम पुरी), जादूगर शाशा (शाहरुख खान) और शी लिंग (झू झू), लेकिन क्या लक्ष्मण का यकीन सही साबित होता है? लक्ष्मण अपने भाई भरत जंग के मैदान से वापस ला पाता है? अब इन सवालों का जवाब पाने के लिए आपको सिनेमाघरों में जाकर पूरी फिल्म देखनी पड़ेगी.

कहानी में एक वक्त ऐसा आता है कि भरत की नौकरी आर्मी में लग जाती है और 1962 के भारत-चीन युद्ध के दौरान उसे जाना पड़ता है और जिसके वापस आने की कोई उम्मीद नहीं होती. फिर यहां से शुरू होता है फिल्म का इमोशनल पल. इसके बाद लक्ष्मण पूरी तरीके से भावुक हो जाता है और उसकी बस यही एक कोशिश होती है कि किसी तरह वह अपने भाई को वापस ला सके.

इस यकीन में लक्ष्मण का समय-समय पर साथ देते हैं बन्ने खान चाचा (ओम पुरी), जादूगर शाशा (शाहरुख खान) और शी लिंग (झू झू), लेकिन क्या लक्ष्मण का यकीन सही साबित होता है? लक्ष्मण अपने भाई भरत जंग के मैदान से वापस ला पाता है? अब इन सवालों का जवाब पाने के लिए आपको सिनेमाघरों में जाकर पूरी फिल्म देखनी पड़ेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here