ममता के सामने नहीं टिकी भाजपा, 148 में से जीती 140 सीटें

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के सामने भारतीय जनता पार्टी टिक नहीं पाई है. बंगाल में हुए निकाय चुनावों में ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा को बुरी तरह हरा दिया है. चुनाव में टीएमसी ने विपक्षी दलों को लगभग कुचलते हुए जबरदस्त जीत हासिल की है. 13 अगस्त को हुए निकाय चुनाव का परिणाम 18 अगस्त को आया. यह परिणाम चौंकाने वाला हैं. इस चुनाव में देश भर में अपनी सरकार बनाने का दावा करने वाले पीएम मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के दावे को जबरदस्त धक्का लगा है.

148 वॉर्डों पर हुए इस निकाय चुनावों में से 140 पर ममता बनर्जी के तृणमूल कांग्रेस को जीत मिली है. चुनाव पश्चिम बंगाल के बुनियादपुर, धूपगुड़ी, दुर्गापुर, हल्दिया, पांसकुरा, कूपर्स कैम्प और नैहाटी में हुए थे. बुनियादपुर की 14 सीटों में से 13 पर टीएमसी के उम्मीदवार जीते हैं जबकि एक सीट भाजपा के खाते में गई है.वहीं धूपगुड़ी की कुल 16 सीटों में से टीएमसी को 12 और भाजपा को चार सीटें हासिल हुई हैं.

कूपर्स कैम्प में तो भाजपा खाता तक नहीं खोल पाई. यहां की सभी 12 सीटों पर तृणमूल कांग्रेस ने कब्जा कर लिया है. दुर्गापुर में भी सभी 43 सीटों तृणमूल को जीत मिली है. नैहाटी में 16 में से 14 पर तृणमूल, एक पर वाममोर्चा और एक पर अन्य प्रत्याशी विजयी हुए हैं. पांसकुरा में 18 सीटों में से तृणमूल ने 17 और बीजेपी ने एक सीट पर जीत हासिल की है. हल्दिया में भी सभी 29 सीटों पर टीएमसी ने जीत दर्ज कराई है.

इस चुनाव के परिणाम ने यह साबित कर दिया है कि भारत को जीतने का सपना देखने वाली भाजपा के लिए राह आसान नहीं है. बंगाल में ममता बनर्जी, ओडिसा में नवीन पटनायक, तामिलनाडु में जयललिता की पार्टी और आंध्र प्रदेश जैसे राज्य में चंद्रबाबु नायडू जैसे नेता अमित शाह के 350+ के दावे की हवा उड़ाने के लिए काफी हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here