इंडोनेशिया ओपन जीतने के बाद किदांबी श्रीकांत ने जीता ऑस्ट्रेलियन ओपन

Kidambi Srikanth

भारत के शीर्ष बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत ने ऑस्ट्रेलियन ओपन में कई उलटफेर के साथ सुपरसीरीज पर कब्जा जमा लिया. रविवार को फाइनल में उन्होंने मौजूदा ओलिंपिक चैंपियन और वर्ल्ड नंबर-6 चीन के चेन लांग को 22-20, 21-16 से मात दी. इसके साथ ही श्रीकांत लगातार दो सुपर सीरीज खिताब जीतने वाले पहले भारतीय पुरुष खिलाड़ी बन गए. वर्ल्ड नंबर-11 श्रीकांत हफ्तेभर में दूसरी बार सुपरसीरीज चैंपियन बने. 18 जून को उन्होंने इंडोनेशिया ओपन का खिताब जीता था. जिस समय रविवार को श्रीकांत सिडनी में फाइनल में खेल रहे थे उस वक्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में उन्हें इंडोनेशिया ओपन जीतने पर बधाई दी.

फाइनल से पहले तक श्रीकांत चीनी सुपरस्टार चेन लांग से पांच पर भिड़े थे और हर बार उन्हें हार मिली थी. लेकिन इस बार श्रीकांत की मौजूदा फॉर्म के आगे ‘चीन की दीवार’ ढह गई. श्रीकांत अबतक लगातार 10 मुकाबले जीत चुके हैं. श्रीकांत की वापसी में उनके नए कोच इंडोनेशिया के होंडोयो का बड़ा हाथ है. श्रीकांत को दांयी एड़ी में हेयरलाइन फ्रैक्चर के बाद तीन महीने तक बैडमिंटन कोर्ट से बाहर रहना पड़ा था.

आंध्र प्रदेश के गुंटूर के 24 साल के श्रीकांत चीन के वर्ल्ड नंबर-4 शी युकी को 21-10, 21-14 से मात देकर लगातार तीसरी बार सुपरसीरीज के फाइनल में पहुंचे थे. श्रीकांत यह उपलब्धि हासिल करने वाले दुनिया के महज छठे शटलर हैं. उनसे पहले लिन डैन, ली चोंग वी, चेन लांग के अलावा बाओ चुनलाई और सोनी ड्वी कुनकोरो यह कारनामा कर चुके हैं.

श्रीकांत ने हमवतन बी. साई प्रणीत को 25-23, 21-17 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई थी. इस जीत के साथ ही श्रीकांत ने सिंगापुर ओपन टूर्नामेंट के फाइनल में प्रणीत से मिली हार का बदला भी पूरा किया. श्रीकांत ने इससे पहले दूसरे दौर में उलटफेर करते हुए वर्ल्ड नंबर-1 द. कोरिया के सोन वान हो को 15-21, 21-13, 21-13 से मात दी थी.

श्रीकांत का यह चौथा सुपर सीरीज खिताब है. उन्होंने पिछले ही हफ्ते इंडोनेशिया ओपन, 2014 में चाइना ओपन और 2015 में इंडिया ओपन सुपर सीरीज खिताब जीते हैं. श्रीकांत ने शानदार प्रदर्शन के दम पर 22 जून को जारी विश्व रैंकिंग में 11 स्थानों की छलांग लगाकर 11वां स्थान हासिल किया था. जबकि उन्होंने अपने साथी भारतीय खिलाड़ी अजय जयराम को 15वें स्थान पर छोड़ दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here