शत्रुघ्न सिन्हा ने भाजपा को दी आत्ममंथन करने की नसीहत

Satrughan sinha

नई दिल्ली। भाजपा नेता और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने पंजाब में गुरदासपुर लोकसभा उपचुनाव में भाजपा को मिली करारी हार पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. इस हार पर पार्टी की किरकिरी के बीच उन्होंने कहा है कि जैसी उम्मीद थी पार्टी को दो लाख वोटों से अपमानजनक हार मिली है.

एक के बाद एक ट्वीट करते हुए लिखा है कि पार्टी और इससे जुड़े लोगों के लिए मेरा प्यार हमेशा है, मैं प्रशंसा करता हूं. मेरा अवलोकन और फीडबैक पार्टी के आत्मनिरीक्षण के लिए है. उन्होंने कहा कि हम अपनी हार स्वीकार करते हैं और मैं सुनील जाखड़ को बड़ी जीत पर बधाई देता हूं.

पार्टी को आइना देखने की जरूरत बताते हुए सिन्हा ने कहा है कि उसे दीवार पर लिखी साफ इबारत को पढ़ने की कोशिश करनी चाहिए नहीं तो जनता के मूड का आंकलन करने में नाकामयाबी की बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है. ट्वीट में उन्होंने कहा कि इसकी उम्मीद पहले से ही थी क्योंकि स्वर्गीय विनोद खन्ना के किसी करीबी को टिकट नहीं दिया गया.

11 अक्टूबर को गुरदासपुर में लोक सभा की सीट पर उपचुनाव हुआ था, जहां कांग्रेस के सुनील जाखड़ ने भाजपा के स्वर्ण सिंह सलारिया को 2 लाख वोटों से हरा दिया था. वहीं इतनी अपमानजनक हार की किसी को उम्मीद भी नहीं थी. सिन्हा ने ट्वीट कर पार्टी को आत्ममंथन करने की सलाह दी है.

सिन्हा इससे पहले भी अपने बयानों के कारण चर्चा में रहे हैं और कई बार पार्टी के लिए असहज स्थिति पैदा कर चुके हैं. हाल ही में पटना यूनिवर्सिटी के 100 साल पूरे होने पर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत किया लेकिन खुद कार्यक्रम में नहीं पहुंचे क्योंकि उनके अनुसार उन्हें शनिवार के कार्यक्रम के लिए शुक्रवार की सुबह 10 बजे न्योता मिला था. उन्होंने पूर्व वित्त मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा द्वारा मोदी की आर्थिक नीतियों की आलोचना किए जाने का भी समर्थन किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here