IIAS शिमला में शोध करेंगे डॉ. अजय कुमार, दलित मुद्दों पर लिख चुके हैं किताब

लखनऊ। बाबासाहेब भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय में शोध कर रहे डॉ. अजय कुमार को फैलोशिप मिली है. इस फैलोशिप के तहत डॉ. अजय कुमार इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडी में पोस्ट-डॉक्टरल शोध करेंगे. यह संस्थान शिमला स्थित राष्ट्रपति भवन से संचालित होता है.

डॉ. अजय कुमार यह फेलोशिप उनके शोध विषय “दलित अस्मितावादी इतिहास लेखनः वैकल्पिक अधीनस्थ समाजशास्त्र की तलाश में (एक समीक्षात्मक मूल्यांकन) के लिए दी गई है.

डॉ. अजय कुमार उन्नाव के भवानीदीन खेड़ा गंगौली गांव के रहने वाले हैं. वह बहुत ही गरीब किसान के बेटे हैं. डॉ. अजय ने अपने पीएचडी का शोध “उत्तर प्रदेश में समकालीन दलित आंदोलनः एक समाजशास्त्रीय अध्ययन” विषय पर था जिसका निर्देशन प्रोफेसर बीबी मलिक ने किया.

अब डॉ. अजय कुमार भारतीय सामाजिक विज्ञान अनुसंधान परिषद में “उत्तर प्रदेश में समकालीन दलित नेतृत्व की बदलती राजनीति एवं प्राथमिकताएंः एक समाजशास्त्रीय अध्ययन” विषय पर शोध कर रहे हैं. डॉ. अजय कुमार के दर्जनों शोध आलेख दलित आंदोलन, दलित नेतृत्व, नारीवादी आंदोलन, दलित एवं महिला विमर्श, लोकतंत्र एवं छात्र आंदोलन विषयों पर अनेक राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय जर्नल्स पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित हो चुके हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here