बर्थ डे स्पेशलः तब ऊपर आका थे और नीचे काका

नई दिल्ली। 29 दिसंबर 1942 को अमृतसर में पैदा हुए बॉलीवुड के पहले सुपर स्टार और सबके दिलों में राज करने वाले राजेश खन्ना का आज 75वां जन्मदिन मनाया जा रहा है. हिंदी सिनेमा का एक ऐसा कलाकार जिसने बताया की सुपरस्टार क्या होता है, उसका अंदाज़ क्या होता है. इस सुपर स्टॉर ने बॉलीवुड को समझाया कि डांस और डाइलॉग डिलीवरी क्या होती है. लडकियां उनके लिए इस कदर दीवानी थीं कि वो अपने खून से उनको लव लेटर भेजा करती थीं. कहीं लडकियां तो इनकी तस्वीर अपनी तकिये के नीचे रख कर सोती थी, ताकि राजेश खन्ना उनके सपनो में आएं. आलम ये था कि उनकी गाड़ी अगर रेड लाइट पे रूकती थी तो लड़कियां उनकी गाडी को चुम-चुम कर लिपस्टिकों से उसका रंग बदल देती थीं. प्यार से सब उन्हें ‘काका’ बुलाते थे.

राजेश खन्ना ने अपने करियर की शुरुआत फिल्म आखिरी खत से की और इस फिल्म की गोल्डन जुबली कामयाबी ने उन्हें स्टार बना दिया था. इसके बाद आयी उनकी फिल्म आराधना से उनका सुपर स्टार का सफर शुरू हुआ. फिर क्या था, इसके बाद तो उन्होंने एक के बाद एक आनंद, अमर प्रेम, दो रास्ते , आप की कसम जैसी 15 सुपरहिट फिल्मों की झड़ी लगा दी. आज भी ये रिकॉर्ड इन्ही के नाम दर्ज है. राजेश खन्ना के लिए कहा जाता था “ऊपर आका और नीचे काका”. कोई स्टार इनके स्टारडम के आसपास भी नहीं था.

शर्मिला टैगोर के साथ कार्ड खेलते राजेश खन्ना, चित्रः साभार गूगल

इनका इन्तेकाल जुलाई 2012 को मुंबई में हुआ था. दुनिया से अलविदा होने से पहले उन्होंने कहा था- “हवा बदल सकती है… मगर फैंस हमेशा मेरे रहेंगे”. हमारे दिलों पर वो ऐसी छाप छोड़ गए हैं जिससे हम कभी नहीं मिटा सकते.

  •  लेखक- गंधर्व गुलाटी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here