‘कंबल बाबा’ की शरण में शुगर ठीक कराने पहुंचे गृहमंत्री

रायपुर। बलात्कारी बाबा राम रहीम के जेल के जाने के बाद अखाड़ा परिषद ने 14 फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी की. इसके बावजूद भी लोगों में अंधविश्वास भरा पड़ा है. आस्था के नाम पर काले कारोबार करने वाले बाबाओं की पूजा कर रहे हैं. पूजा करने वाले में आम नागरिक ही बल्कि नेता लोग भी शामिल है.

राम रहीम, राधे मां जैसे पाखंडियों के साथ हमने ने कई बड़े नेताओं की फोटो देखी. वो कैसे इन पाखंडियों को आगे हाथ जोड़कर और सिर झुकाकर खड़ें रहते थे. अब ऐसा ही मामला छत्तीसगढ़ से आया है. जहां के गृहमंत्री रामसेवक पैकरा तथाकथित कंबल बाबा की शरण में गए हैं. सोशल मी़डिया पर पैकरा की तस्वीरें भी वायरल हो रही है.

तस्वीरों में तथाकथित कंबल बाबा मंत्री को दवाई देते नजर आ रहे हैं. कहा जा रहा है ये दवाई शुगर की है. बाबा शुगर का इलाज करते नजर आ रहे हैं जिसे वह जड़ से खत्म करने का दावा भी करते हैं.

वहीं, मामले में मंत्री का कहना है कि मैं अपने विधानसभा क्षेत्र में दौरे पर था. 5000 लोग वहां थे, मैंने भी 10 मिनट वहां खड़े होकर देखा कि दिव्यांग जो लकवाग्रस्त चल नहीं पा रहे थे मैंने भी देखा कि मालिश करके उन्होंने उन्हें चला दिया था. मुझे भी कुछ चमत्कार जैसा लगा. मुझे भी शुगर है. तो मैं भी चला गया. यहां पांच बार हर आदमी को जाना होगा तब दवा प्रभावी होगी. बस एक चम्मच शक्कर दी है, कहा पांच बार आना पड़ेगा मैंने कहा सरकारी दवा में खाता हूं इसके खाना से फायदा होगा तो हर्ज़ क्या है. चमत्कारिक तो दिखता है इतनी भीड़ वहां जुटती है. वहां गरीब लोग भी थे, संपन्न भी… सबसे बड़ी बात निशुल्क था.

कंबल वाले बाबा का असली नाम गणेश है, वह गुजरात का रहने वाला है. बाबा का दावा है कि मां काली ने उसे कई सालो पहले एक अद्भुत कंबल दिया था. वह कंबल ओढ़ कर बीमारी का इलाज कर सकता है. बाबा निशुल्क इलाज का दावा करता है. दावा है कि वह 28 साल से इलाज कर रहे हैं. यह भी दावा है कि पहले वह बोल और सुन नहीं सकते थे, भगवान की कृपा से बोलने-सुनने लगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here