फर्जी दस्तावेज मामले में फंसे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

इस्लामाबाद। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पर फर्जी दस्तावेज के आरोप पाये गये हैं. पनामा पेपर लीक मामले में बेटी मरियम के फर्जी दस्तावेज से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की कुर्सी खतरे में पड़ गई है. शरीफ पर इस्तीफा देने का दबाव बढ़ गया है. पनामा गेट मामले की जांच करने वाले संयुक्त जांच दल ने मरियम पर जाली दस्तावेज सौंपने का आरोप लगाया है. साथ ही इसे आपराधिक मामला करार दिया है.

बता दें की मरियम को राजनीति में शरीफ के उत्तराधिकारी के तौर पर देखा जा रहा है. छह सदस्यीय जेआइटी ने शरीफ परिवार की विदेश में संपत्ति और मनी लांडिंग से जुड़े मामलों की जांच कर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में अपनी रिपोर्ट दाखिल की.

जानकारी के अनुसार जेआइटी ने मरियम, उनके भाइयों हुसैन व हसन के साथ ही उनके पति सफदर ने सुप्रीम कोर्ट को गुमराह करने के लिए फर्जी दस्तावेज सौंपे. जांच में नवाज शरीफ परिवार के पास अकूत संपत्ति होने का भी पता चला. इस बीच मरियम ने ट्वीट कर जेआइटी के आरोपों से इन्कार किया है. दूसरी और विपक्ष के नेता इमरान खान ने नवाज शरीफ से तत्काल इस्तीफे की मांग की और घोटाले की निष्पक्ष जांच की मांग की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here