प्रद्युम्न मर्डर केसः ‘CBI ने थर्ड डिग्री देकर कबूल करवाया जुर्म’

prd

गुरुग्राम। गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुई प्रद्युम्न की हत्या का मामला सुलझने के बजाए उलझता जा रहा है. अब सीबीआई द्वारा आरोपी बनाए गए 11वीं के छात्र के बयान से इस केस में एक नया मोड़ आ गया है. आरोपी छात्र ने सीबीआई को दिए अपने पहले के बयान से मुकरते हुए जांच एजेंसी पर ही गंभीर आरोप लगा दिया है.

13 नवंबर को आरोपी छात्र की काउंसिलिंग और उसका बयान लेने पहुंची बाल सुरक्षा एवं संरक्षण (सीपीडब्ल्यूओ) अधिकारी के सामने आरोपी ने कहा, “मैंने प्रद्युम्न की हत्या नहीं की है. सीबीआई ने मुझसे यह जुर्म कबूल करने के लिए कहा है.” सीपीडब्ल्यूओ रेनू सैनी के सामने आरोपी छात्र ने आरोप लगाया कि सीबीआई ने उससे कहा कि यह जुर्म उसे कबूल करना पड़ेगा. ऐसा नहीं करने पर उसके भाई की हत्या कर दी जाएगी.

छात्र ने कहा, “मैं अपने भाई को बहुत प्यार करता है, उसे मरते हुए नहीं देख सकता. इसलिए सीबीआई वालों ने जैसा कहा, मैंने वैसा ही किया.” सीबीआई अधिकारी और सीपीडब्ल्यूओ की रेनू सैनी ने आरोपी छात्र से 13 नवंबर को ऑब्जर्वेशन होम जाकर मुलाकात की थी और करीब दो घंटे तक उससे बात की थी.

13 नवंबर को सीबीआई की मौजूदगी में आरोपी छात्र से उसके माता-पिता और भाई की मुलाकात कराई गई. तीनों एक घंटे तक आरोपी छात्र के पास रहे और इस दौरान उसकी मां उससे लिपटकर रोती रही. गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 8 सितंबर को 7 साल के प्रद्युम्न ठाकुर नाम के छात्र की हत्या कर दी गई थी. प्रद्युम्न का शव स्कूल के टॉयलेट में मिला था. इस मामले की शुरुआत में जांच करने वाली गुरुग्राम पुलिस ने हत्या के आरोप में स्कूल के एक बस कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here