टिकट बंटवारे को लेकर पाटीदारों और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प

gujarat election

अहमदाबाद। गुजरात के चुनावी माहौल में टिकट बंटवारे को लेकर पाटीदारों और कांग्रेस में विवाद गहराता जा रहा है. रविवार देर रात जैसे ही कांग्रेस ने अपने 77 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की, वैसे ही पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पीएएएस) और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई. पाटीदार अनामत आंदोलन समिति का आरोप है कि टिकट वितरण में उन्हें नजरअंदाज किया गया है.

इस लिस्ट के बाद गुजरात कांग्रेस और पाटीदार नेताओं में कोहराम मच गया है. 77 की लिस्ट में पाटीदार अनामत आंदोलन समिति से सिर्फ दो लोगों के नाम होने पर पाटीदारों ने जमकर बवाल मचाया है. अहदमदाबाद में गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी के घर के बाहर पाटीदारों ने जमकर हंगामा किया. इस दौरान भरत सिंह सोलंकी तो सामने नहीं आए लेकिन पाटीदार आंदोलन के कनवीनर दिनेश बामनिया ने कहा कांग्रेस ने बिना बातचीत के उम्मीदवारों का एलान किया है.

सोलंकी के घर के बाहर प्रदर्शन कर रहे पाटीदारों और पुलिस में झड़प भी हुई. वहीं सूरत में भी पाटीदारों ने हंगामा किया. पाटीदार नेता कांग्रेस से 25 सीटों की मांग कर रहे थे लेकिन कांग्रेस 11 से ज्यादा सीटें देने को राजी नहीं है. पूरे विवाद के पीछे वजह कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली लिस्ट है. जिसमें हार्दिक के करीबी ललित वसोया को धोराजी से और पीएएएस नेता निलेश कंबानी को कमरेज से टिकट दिया गया है.

कांग्रेस की लिस्ट से नाराज पाटीदार नेता दिनेश बामणिया ने कहा बिना भरोसे में लिए दो पाटीदार नेताओं के नाम का एलान कर दिया गया है. बामणिया ने पूरे राज्य में कांग्रेस के विरोध की धमकी दी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here