पाकिस्तान में चुनाव लड़ेगी आतंकवादियों की पार्टी

लाहौर। 2008 के मुंबई आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड हाफिज सईद अब पाकिस्तान में चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहा है. यह जानकारी संगठन के वरिष्ठ सदस्य शेख याकूब ने लाहौर उप चुनाव के एक दिन बाद दी है. पिछले महीने जमात-उद-दावा ने मिल्ली मुस्लिम लीग नाम से पार्टी के गठन का एलान किया था. लाहौर में नेशनल असेंबली की एनए-120 सीट पर रविवार को हुए उप चुनाव में जमात-उद-दावा सर्मिथत उम्मीदवार शेख याकूब तीसरे स्थान पर रहा.

शेख याकूब ने लाहौर में पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पत्नी कुलसुम नवाज के खिलाफ चुनाव लड़ा था. यह सीट सुप्रीम कोर्ट द्वारा नवाज शरीफ को संसद की सदस्यता के अयोग्य ठहराए जाने से खाली हुई थी. जमात-उद-दावा ने बीते अगस्त में मिल्ली मुस्लिम लीग नाम की पार्टी की घोषणा की थी. वह इसी पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर शेख याकूब को चुनाव लड़वाना चाह रहा था लेकिन चुनाव आयोग में पार्टी का पंजीकरण न होने से ऐसा नहीं हो सका. अंतत: याकूब ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा और पांच हजार वोट पाए. उसने कहा है कि दावा समर्थित उम्मीदवार के तौर पर उसे लोगों का काफी साथ मिला.

संगठन के चुनाव में उतरने का जनता ने स्वागत किया. लोग चाहते हैं कि संगठन के लोग भविष्य में भी चुनाव लड़ें और जीतकर देश को मजबूत बनाएं. इससे हमारी भारत, अमेरिका और इजरायल जैसे दुश्मन देशों के खिलाफ लड़ाई मजबूत होगी और जनता की समस्याएं भी दूर होंगी. न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार शेख याकूब को अमेरिकी प्रशासन ने 2012 में आतंकी संगठन का नेता घोषित करके उसके साथ किसी भी तरह के लेन-देन पर रोक लगा दी थी. अमेरिका ने जमात-उद-दावा को 2014 में विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here