महिलाओं को जिहाद में शामिल करने के लिए तालिबान ने निकाल मैगजीन


इस्लामाबाद। तहरीक़-ए-तालिबान के प्रमुख मुल्ला फ़जलुल्लाह की पत्नी ने कहा है कि लड़कियों और लड़कों की कम उम्र में शादी कर देनी चाहिए ताकि वे रास्ता भटकने से बच सकें. इससे वे महिलाओं का रूझान जिहाद की तरफ भी बढ़ेगा. उन्होंने यह बात तालिबान की ओर से प्रकाशित होने वाले एक प्रचार पत्रिका में कही.

तालिबान ने महिलाओं के लिए अंग्रेज़ी भाषा में पत्रिका का पहला संस्करण जारी किया है. पत्रिका में मुल्ला फ़जलुल्लाह की पत्नी के साक्ष्ताकार के अलावा एक छह वर्षीय बच्ची की कहानी भी प्रकाशित की गई है जो जेहादी बनना चाहती है.

सुन्नत-ए-खुला में खुले आम महिलाओं को जिहाद की ओर आने के लिए कहा जा रहा है. इस पत्रिका में एक डॉक्टर महिला ने भी अपनी कहानी बताई है कि उन्होंने किस तरह इस्लाम को अपनाने के बाद पश्चिमी पढ़ाई और जीवन से खुद को अलग कर लिया.

तालिबान के प्रमुख मिला फजलुल्लाह की पत्नी ने कहा कि लड़कियों को हथगोले और छोटे हथियार चलाना सीखना चाहिए और उसके उन्हें जिहादी प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहिए. तहरीके तालिबान पाकिस्तान की ओर से प्रकाशित होने वाले पत्रिका के कवर पर एक लड़की की तस्वीर है जो सिर से पांव तक ढंकी है.

पत्रिका के संपादकीय में कहा गया है कि हम मुसलमान महिलाओं को सलाह दे रहे हैं कि वे जिहाद में अपना योगदान करें. पत्रिका में जिहाद में शामिल होने की चाह रखने वाली महिलाओं के लिए सलाहें भी दी गई हैं. एक और संपादकीय में कहा गया है कि भारत पाकिस्तान पर हमला करना चाहता है. तालिबान पाकिस्तान में लगातार उर्दू और अंग्रेज़ी में जिहादी मैग्ज़ीन प्रकाशित करता रहा है.

इस्लामाबाद आतंकवादी संगठन अब अपना दायरा बढ़ाने के लिए कई नए-नए तरीकों का सहारा ले रहे हैं. इसी कड़ी में पाकिस्तानी तालिबान अब मैगजीन के सहारे महिलाओं को रिझाने की कोशिश कर रहा है. तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (TTP) नाम के इस आतंकवादी संगठन ने महिलाओं के लिए एक पत्रिका निकाली है. बीते मंगलवार को इस मैगजीन का पहला अंक सामने आया. इस मैगजीन का मकसद महिलाओं को पाकिस्तान तालिबान में शामिल होने के लिए तैयार करना और उन्हें जिहाद के रास्ते पर आगे ले जाना है. यह पत्रिका अंग्रेजी भाषा में लिखी गई है.

इस मैगजीन का नाम ‘सुन्नत-ए-खाउला’ है. इसका मतलब है- खाउला के बताए तरीके, खाउला पैगंबर मुहम्मद की सबसे शुरुआती महिला समर्थकों में से एक थीं. इस मैगजीन के फ्रंट कवर पर एक महिला की तस्वीर है, जो कि सिर से लेकर पांव तक नकाबपोश है. इस महिला ने सिर से लेकर पांव के अंगूठे तक को बुर्के से ढका हुआ है. पत्रिका के भीतर TTP के सरगना फजलुल्लाह खोरासानी की पत्नी का इंटरव्यू है. इसका नाम नहीं बताया गया है. इंटरव्यू में वह फजलुल्लाह से शादी करने और अपने विवाहित जीवन के अनुभवों के बारे में बताती है. उसने बताया कि महज 14 साल की उम्र में उसकी शादी फजलुल्लाह से हो गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here