बसपा में शामिल हुए पूर्व सांसद, अरविंद होंगे सलेमपुर से प्रत्याशी

देवरिया। बहुजन समाज पार्टी जोन इंचार्ज घनश्याम चंद्र खरवार ने रविवार (30 जुलाई) को कहा कि योगी सरकार विकास के मुद्दे पर फेल हैं. गाय और गंगा के अलावा कोई काम नहीं हो रहा है. कानून व्यवस्था बदतर हालात में है. वह रविवार को जिला पंचायत के सभागार में देवरिया-कुशीनगर के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित कर रहे थे.

बहुजन समाज पार्टी ने जिले में बड़ी राजनीतिक उलट फेर करते हुए सपा के पूर्व सांसद हरिवंश सहाय के बेटे अरविंद सहाय को सलेमपुर से लोकसभा का प्रत्याशी घोषित कर दिया है. रविवार बसपा के जोन इंचार्ज घनश्यामचंद्र खरवार ने जिला पंचायत सभागार में पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक में इसकी घोषणा की.

बैठक शुरू होते ही जोन इंचार्ज घनश्यामचंद्र खरवार ने पूर्व सांसद हरिवंश सहाय व उनके बेटे अरविंद सहाय के बसपा में शामिल होने की घोषणा की. इन दोनों के अलावा विभिन्न दलों के करीब दर्जन भर अन्य नेता भी बसपा में शामिल हुए हैं. हरिवंश सहाय 1996 में सपा के टिकट पर सलेमपुर से सांसद चुने गए थे.

2014 में भी सपा ने इन्हें टिकट दिया था, लेकिन चुनाव हार गए. बसपा में शामिल होने के बाद पूर्व सांसद ने कहाकि अब मेरी उम्र 82 वर्ष हो चुकी है. ज्यादा भागदौड़ नहीं कर सकता, ऐसे में बेटे के लिए प्रचार करूंगा. उन्होंने भविष्य में कोई चुनाव लड़ने की संभावना से भी इंकार किया. सपा छोड़े जाने की बात कहा कि वे पार्टी नेतृत्व से नाराज होकर नहीं बल्कि परिस्थितिवश यह निर्णय ले रहे हैं.

खरवार ने  कहा कि दलित और पिछड़े वर्ग के लोगों का उत्पीड़न बढ़ गया है. प्रदेश की जनता मायावती के मुख्यमंत्रित्व कार्यकाल की सराहना कर रही है. डॉ. मदन राम ने कहा कि प्रदेश में अराजकता का माहौल है. भगवाधारी लोग कानून को हाथ में ले रहे हैं. पूर्व मंत्री कल्पनाथ ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन में धांधली 2017 के चुनाव में सामने आई. कार्यकर्ता अब जागरूक हो गए हैं। भाजपा की मंशा को कामयाब नहीं होने देंगे. इस अवसर पर जोन इंचार्ज घनश्याम चंद्र खरवार के अलावा मुख्य जोन इंचार्ज दिनेश चंद्रा,जोन इंचार्ज कल्पनाथ बाबू, डा. मदनराम, रामसूरत चौधरी, सुरेश कुमार गौतम व जिलाध्यक्ष ईं अंबरीश कुमार मौजूद रहे.

बसपा से सलेमपुर के लोकसभा प्रत्याशी बनाए गए अरविंद सहाय(43) भाटपाररानी की कुकुरघांटी ग्राम पंचायत से निर्विरोध क्षेत्र पंचायत सदस्य रह चुके हैं. दर्शनशास्त्र से एमए करने के बाद इन्होंने एमएड व पीएचडी की उपाधि हासिल की. वर्तमान में ये चौधरी चरण सिंह महाविद्यालय बरईपार पाण्डेय के कार्यवाहक प्राचार्य हैं. 2001 में ये समाजवादी युवजनसभा के जिला महासचिव भी रह चुके हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here