अल्पसंख्यक परिवार पर भीड़ का ट्रेन में हमला

आगरा। कुछ दिन पहले रेल में यात्रा करते हुए हरियाणा के एक अल्पसंख्यक की मौत का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था की अब उत्तर प्रदेश के मैनपुरी के पास ट्रेन में फिर से शर्मनाक घटना हुई है.

यह घटना शिकोहाबाद-कासगंज पैसेंजर ट्रेन की है जिसमें सफर कर रहे 10 सदस्यों वाले एक अल्पसंख्यक परिवार को भीड़ ने निशाना बनाकर मार पिटाई शुरू कर दी. इस परिवार में महिलाओं और बुजुर्गों के साथ ही एक दिव्यांग शख्स भी परिवार के साथ सफर कर रहा था पर गुंडो की भीड़ ने किसी को नहीं छोड़ा, सभी के साथ मार पिटाई की गयी.

घटना की जानकारी देते हुए अस्पताल में भर्ती परिवार के एक सख्स ने बताया की हम पर इसलिए हमला हुआ क्योंकि हमारे कपड़े और पहचान उनसे अलग नजर आ रही थी. पुलिस ने मामले में एफआईआर दर्ज कर ली है.

50 साल के पीड़ित मोहम्मद शाकिर ने बताया, ‘भोगांव के पास हम ट्रेन में चढ़े.  ट्रेन ने सिर्फ 4 किमी. तक की ही दूरी तय की होगी जब एक शख्स ने मेरे बेटे दिव्यांग बेटे फैजान का फोन छीन लिया.’ शाकिर ने बताया, ‘फोन छीनने का फैजान ने विरोध किया तो उन लोगों ने मारपीट शुरू कर दी. परिवार की महिलाओं और फैजान को गालियां देने लगे.’ 10 लोगों में से 4 को फ्रैक्चर हुआ है वहीं लगभग सभी सदस्यों को सिर और पेट में चोट लगी है. शाकिर कहते हैं, ‘निबाकरोरी स्टेशन पर जब ट्रेन रुकने वाली थी उससे कुछ पहले इन लोगों ने चेन खींच दी. इसके बाद कुछ और लड़के रॉड लेकर घुस गए और एक साथ हम पर हमला कर दिया.’

मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘ऐसा लग रहा है कि पीड़ित महिलाओं को प्रताड़ित किया गया है. उनके शरीर पर चोट के निशान हैं और साथ ही कपड़े भी फटे हुए हैं. फिलहाल वो लोग ज्यादा कुछ कहने की हालत में नहीं है. हमने मामले की जांच शुरू कर दी है. दोषियों को पकड़ लिया जाएगा. गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों में अल्पसंख्यको पर यह दूसरी बड़ी घटना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here