न्यायालय को निशाना बनाने पर मायावती की भाजपा को खरी-खरी

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की सुप्रीमो मायावती ने भाजपा शासित केंद्र और राज्य सरकारों पर निशाना साधा है. मायावती ने आरोप लगाया है कि सत्ताधारी बीजेपी न्यायपालिका पर लगातार हमले और टिप्पणियां कर रही है जो गंभीर चिंता का विषय हैं.

मायावती ने एक बयान जारी कर कहा कि बीजेपी सरकारें, इसके नेता और सांसदों द्वारा जजों के लिए अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया जाता है. साथ ही अदालतों के खिलाफ हाल के दिनों में जो रवैया देखने को मिला है उससे देश के माथे पर चिंता की लकीरें खिंच गई हैं.

मायावती ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह मामले का जिक्र करते हुए कहा कि बड़े पैमाने पर हुई हिंसा और आगजनी के बाद पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट की फटकार पर बीजेपी के अनेक नेताओं ने सार्वजनिक तौर पर जो टिप्पणियां की हैं, उसको देश ने नापसंद किया है.

महाराष्ट्र के मामले का जिक्र करते हुए मायावती ने कहा कि एक मामले में देवेंद्र फडणवीस सरकार को लिखित हलफनामा दाखिल कर अदालत से बिना शर्त माफी मांगनी पड़ी है. असल में मायावती उस मामले का जिक्र कर रही थी जिसमें केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण कानून के तहत ‘शान्ति क्षेत्र’ घोषित करने संबंधी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मामले में सुनवाई थी. इसके दौरान महाराष्ट्र सरकार द्वारा अदालत पर द्वेष के साथ काम करने का आरोप लगाकर जजों को बदलने की मांग की गई थी. बॉम्बे हाईकोर्ट ने गंभीर मामला मानकर इस पर कड़ा रूख अपनाया था, जिसके बाद फडणवीस सरकार को अदालत से मांफी मांगनी पड़ी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here