प्रताड़ना ज़ाहिर करती सामने आईं जाधव की तस्वीरें।

नई दिल्ली। हाल ही में पाक जेल में कैद पूर्व भारतीय नेवी ऑफिसर कुलभूषण जाधव को उनकी मां और पत्‍नी से मिलवाया गया था. मुलाकात के दौरान ली गईं कुछ तस्‍वीरें सामने आयी हैं, जिनमें जाधव के सिर पर और कान के पीछे एक लंबा निशान देखा जा सकता है. इन तसवीरों में कुलभूषण जाधव को दी गईं यातनाओं का दर्द साफ बयाँ हो रहा है.

इस मुलाकात के बाद कुछ ऐसे दृश्य भी सामने आए हैं जिनसे साफ ज़ाहिर है कि जाधव को दबाव के चलते परिवार से मिलाया गया था, जैसे जाधव और उनके परिवार के बीच काँच की दीवार थी, जिसमें वह अपनी माँ और पत्नी के सामने कोट पहन कर बैठे थे, ऐसे में माना यह जा रहा है कि शरीर पर लगी चोटों को छुपाने के लिए उन्हे कोट पहनाया गया था. मराठी या हिन्दी में बात करने की जगह पर जाधव अंग्रेजी भाषा का इस्तेमाल कर रहे थे, दो वर्षों के बाद परिवार से मिलने पर भी उनके चेहरे पर कोई भाव नहीं थे. इतना ही नहीं मुलाकात के तुरंत बाद पाकिस्तान ने प्रेस कान्फ्रेंस में एक वीडियो जारी किया जिसमें कुलभूषण अपने परिवार से मुलाकात के लिए पाकिस्तान का धन्यवाद कह रहे हैं और खुद को रॉ का एजेंट भी बता रहे हैं.

इस मुलाकात की तसवीरें तेज़ी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं जिसमें कुछ और भी चौकाने वाली बातें सामने आयी हैं. इसमें 47 साल के कुलभूषण किसी 60-65 साल के बुजुर्ग जैसे दिखाई दे रहे थे. और परिवार के मुताबिक उनका वज़न पहले से काफी कम दिखाई दिया. हलांकी पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने मुलाकात के बाद विदेश सचिव एस जयशंकर को कुलभूषण जाधव की मैडिकल रिपोर्ट दी, जिसके मुताबिक उनके शरीर में कोई फ्रैक्चर नहीं है साथ ही ईसीजी और अल्ट्रासाऊंड की रिपोर्ट भी नॉरमल बताई जा रही है.

पीयूष शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here