जमीन से समुद्र तक  ISRO के सैटलाइट्स से भारतीय सेना मजबूत

ISRO के सैटेलाइट्स को अंतरिक्ष में भेजे गए कार्टोसैट-2 सीरीज के ‘आई इन द स्काई’ सैटलाइट के सफलत लॉन्च के बाद भारतीय सेना और मजबूत हो गई है. भारतीय सेना के पास अब दुश्मन देशों पर नजर बनाए रखने के लिए 13 सैटलाइट्स हो गए हैं.

भारतीय सेना सैटलाइट्स के माध्यम से जल और थल दोनों जगहों पर सेना देश के दुश्मनों पर रखेगी. सूत्रों की माने तो इन रिमोट सेंसिंग सैटलाइट्स में से अधिकांश को पृथ्वी के काफी करीब रखा गया है. रिमोट सेंसिंग उपग्रह की विभेदन क्षमता 0.6 मीटर की है. इसका अर्थ यह है कि यह पहले से भी छोटी चीजों की तस्वीरें ले सकता है.

सूत्रों की माने तो इसके माध्यम से आतंकी शिविरों और बंकरों आदि की पहचान के लिए किया जा सकता है. वहीं भारतीय सेना अब अब भारतीय सेना कार्टोसेट-2 सैटेलाइट के साथ कार्टोसेट-1, रीसेट-1 और रीसेट-2 सेटेलाइट से भी भारत के दुश्मनों की निगरानी करेगी. हालांकि इनमें से कुछ सैटलाइट्स को जिओ ऑर्बिट में भी रखा गया है.

भारतीय नेवी जी-सेट सेटेलाइट के माध्यम से समंदर में होने वाली हर हलचल पर अपनी नजर रखेगी. नेवी इसकी सहायता से दुश्मनों की हर गतिविधियों पर नजर रखेगी. इसके अलावा जरूरत पड़ने पर युद्धपोतों, पनडुब्बियों, विमानों से सम्पर्क साध सकेगें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here