अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी ज्योति गुप्ता का शव रहस्यमय स्थिति में मिला

रेवाड़ी। सोनीपत निवासी अंतरराष्ट्रीय महिला हॉकी खिलाड़ी ज्योति गुप्ता का शव बुधवार की रात रोहतक रेल लाइन पर पड़ा मिला. ज्योति बुधवार सुबह ही रोहतक जाने के लिए घर से निकली थी.

बुधवार रात करीब दस बजे जीआरपी थाने को सूचना मिली कि रोहतक रेल लाइन पर फ्लाइओवर के निकट एक युवती का शव पड़ा है. सूचना के बाद एएसआई उमेद सिंह और एएसआई उर्मिला देवी मौके पर पहुंचे. शव के निकट एक हैंड बैग व मोबाइल पड़ा था.

पुलिस ने मोबाइल के आधार पर शव की शिनाख्त का प्रयास किया. देर रात मोबाइल पर परिजनों की कॉल आने पर शव की शिनाख्त सोनीपत के विजयनगर वार्ड नंबर-25 निवासी 21 वर्षीया ज्योति गुप्ता पुत्री प्रमोद गुप्ता के रूप में हुई।बृहस्पतिवार सुबह ज्योति के पिता प्रमोद गुप्ता, मां बबली व कोच अनिल कुमार अन्य परिजनों के साथ रेवाड़ी पहुंचे.

प्रमोद गुप्ता ने बताया कि ज्योति बीए कर चुकी थी. बुधवार को उसने बताया था कि उसके सर्टिफिकेट में दर्ज नाम में गलती है, उसे ठीक कराने के लिए एमडीयू रोहतक जा रही है. करीब 11 बजे वह घर से निकली थी. शाम को साढ़े पांच बजे ज्योति की अपनी मां बबली से बात हुई थी. ज्योति ने बताया था कि उसकी बस रास्ते में खराब हो गई. एक घंटे में वह घर पहुंच जाएगी.

देर शाम तक भी जब ज्योति घर नहीं पहुंची तो संपर्क करने का प्रयास किया, परंतु मोबाइल स्विच ऑफ मिला. रात में ज्योति के मोबाइल से जब पुलिस ने बात की तब परिजनों को घटना के बारे में जानकारी मिली.

प्राथमिक जांच में पुलिस ज्योति द्वारा आत्महत्या करना मान रही है. पुलिस ने चिकित्सकों के बोर्ड से शव का पोस्टमार्टम कराया है. ज्योति के परिजन आत्महत्या मानने से इनकार कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here