भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 1.536 अरब डॉलर बढ़कर 392.867 अरब डॉलर हो गया

नई दिल्ली। भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 28 जुलाई को समाप्त हुए हफ्ते में 1.536 अरब डॉलर बढ़कर 392.867 अरब डॉलर हो गया है. यह आंकड़ा 25,209 अरब रुपये के बराबर है. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के आंकड़ों के मुताबिक इससे पहले के हफ्ते में यह भंडार 2.27 अरब डॉलर बढ़कर 391.33 अरब डॉलर पर पहुंचा गया था.

बीते शुक्रवार को जारी साप्ताहिक आंकड़ें के तहत विदेशी पूंजी भंडार का सबसे बढ़ा घटक विदेशी मुद्रा आस्तियां (FCA) आलोच्य हफ्ते में 160.99 करोड़ डॉलर बढ़कर 368.75 अरब डॉलर हो गई है. यह आंकड़ा 23651.4 अरब रुपये के बराबर है.

केंद्रीय बैंक के अनुसार विदेशी मुद्रा भंडार को डॉलर में व्यक्त किया जाता है. इस भंडार में मौजूद यूरो, पौंड, स्टर्लिंग, येन जैसे अंतरराष्ट्रीय मुद्राओं के मूल्यों में होने वाले उतार चढ़ाव का सीधे तौर पर प्रभाव पड़ता है.
आलोत्य अवधि में बारत का स्वर्ण भंडार 20.34 अरब डॉलर रहा है. यह आंकड़ा 1317.4 अरब रुपये के बराबर है. इस दौरान अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में भारत के विशेष निकासी अधिकार (एसडीआर) का मूल्य 39 लाख डॉलर बढ़कर 1.49 अरब डॉलर हो गया है. यह 95.9 अरब रुपये के बराबर है. आईएमएफ में देश के मौजूदा भंडार का मूल्य 7.72 करोड़ डॉलर घटकर 2.26 अरब डॉलर दर्ज किया गया है. यह 145.2 अरब रुपये के बराबर है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here