शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए प्रशासन हुआ सख्त

मध्य प्रदेश के गुना जिले में शिक्षा व्यवस्था का बुरा हाल है जिसके चलते जिले के छात्र दूसरे राज्यों में पलायन करने को मजबूर हैं. सरकारी स्कूलों में शिक्षा का हाल ये है कि शिक्षक स्कूल में दो से तीन घंटे देरी से आते हैं, इसके साथ ही कक्षाओं में पढ़ाना मात्रा उनका पढ़ना मात्रा खानापूर्ति हो गया है.

जिले में शिक्षा का स्तर तेजी से गिरा है इसलिए प्रदेश सरकार के लिए भी अब ये गंभीरता का विषय बन गया है. सरकार ने आदेश जारी कर कलेक्टरों को इसकी जिम्मेदारी दी है. सबसे ज्यादा खराब हालात ग्रामीण स्कूलों के हैं जहां छात्रों को संसाधनों की कमी के बीच पढ़ाया जा रहा है. ग्रामीण स्कूलों में शिक्षक भी ज्यादातर स्कूल से गायब रहते हैं.

राज्य सरकार जल्द ही मात्र वेतन बटोरने वाले शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई करेगी. उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया ने बताया की सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए कई आदेश जारी किए हैं. जिसके बाद सभी जगहों के कलेक्ट मॉनटरिंग कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here