हनीप्रीत ने कबूला जुर्म, खोला ये अहम राज…

Honeypreet

नई दिल्ली। पुलिस की सख्ती और दबाव से हनीप्रीत ने कबूल कर लिया है कि राम रहीम की सजा सुनाए जाने वाले दिन पंचकूला में हिंसा की शाजिश रची थी. हनीप्रीत ने कहा कि 17 अगस्त को डेरे में एक मीटिंग हुई थी, जिसमें हिंसा की साजिश रची गई.

हरियाणा पुलिस की एसआईटी को पूछताछ के दौरान हनीप्रीत ने बताया कि हिंसा की साजिश के तहत किसको कहां भेजना है, किन इलाकों में हिंसा फैलाई जानी है, इसकी जानकारी उसे पहले से ही थी. इसके लिए मैप तैयार किए गए थे. डेरा के जिन खास विश्वासपात्रों की तैनाती की गई थी, उनके नाम और रोड मैप हनीप्रीत के एक लैपटॉप में सुरक्षित हैं.

पुलिस ने मंगलवार को पंचकूला की अदालत में हनीप्रीत का रिमांड बढ़ाए जाने के वक्त जो दलील दी, उसमें बताया गया कि उसे सिरसा में हनीप्रीत के लैपटॉप की बरामदगी करनी है. हनीप्रीत इससे पहले एक डायरी का जिक्र भी कर चुकी है. सूत्रों की मानें तो हनीप्रीत के लैपटॉप और सीक्रेट डायरी में हिंसा से संबंधित मानचित्र और डेरा के राजदारों की जानकारी है.

रोहतक के सुनारिया जेल में बंद राम रहीम से सीबीआई ने जेल में ही तीन घंटे तक पूछताछ की है. ये पूछताछ 9 अक्टूबर को की गई. राम रहीम से डेरे के साधुओं को नपुंसक बनाने के मामले में सवाल जवाब किए गए. राम रहीम ने आरोपों से इंकार किया है. सीबीआई राम रहीम के कुछ और सहयोगियों और डेरे के कुछ डाक्टरों से भी पूछताछ करेगी.

राम रहीम को रेप का दोषी ठहराए जाने के बाद 25 अगस्त को पंचकूला में बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी जिसमें 36 लोग मारे गए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here