केंद्र सरकार चाहती है न पढ़ें दलित छात्र, इसलिए रोकी छात्रवृत्तिः टम्टा

नई टिहरी। राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि देश के अंदर कांग्रेस ही दलितों की हितैषी है. टम्टा ने कहा कि केंद्र सरकार ने दो साल से अनुसूचित जाति के छात्रों को मिलने वाली एक अरब 27 करोड़ रुपये छात्रवृत्ति जारी नहीं की है. अगर भाजपा दलित हितैशी होती तो दलित छात्रों की छात्रवृति को नहीं रोकती. प्रदीप टम्टा ने कहा कि भाजपा दलितों के बीच जाकर गलत बयानबाजी कर रही है.

बीते रविवार को कांग्रेस के प्रतापनगर विधानसभा के अनुसूचित जाति सम्मेलन में राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा केंद्र सरकार दलित छात्रों को आगे बढ़ने का अवसर नहीं देना चाहती. इतना ही नहीं भाजपा के लोग धर्म और जाति के नाम पर वोट की राजनीति करते है, जिससे पूरे समाज की सामाजिक समरसता एवं विकास की गति को नुकसान होता है.

विधायक विक्रम नेगी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने सभी वर्गों का ध्यान रखते हुए योजनाओं को धरातल पर उतारा है. जिला पंचायत सदस्य व कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष मुरारीलाल खंडवाल ने केंद्र सरकार पर दलितों की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए एससीपी की योजनाओं हेतु जिलास्तर पर बजट आवंटन करने समेत कई समस्याओं को रखा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here