योग सिखाने पर मुस्लिम टीचर के खिलाफ जारी हुआ फतवा

rafia

रांची। योगा सिखाने वाली प्रसिद्ध मुस्लिम योगा टीचर राफिया नाज़ के खिलाफ मुस्लिम धर्मगुरुओं ने फतवा जारी कर दिया है. इतना ही नहीं उनके ही समुदाय के कुछ लोग उन्हें जान से मारने की धमकी भी दे रहे हैं, जिसके बाद प्रशासन ने उनको अंगरक्षक देने की बात कही है.

दरअसल, राफिया नाज योग टीचर हैं और वह रांची के निवारणपुर स्थित आदिम जाति सेवा मंडल के आश्रम में पहली से 10वीं कक्षा तक के बच्चों को योग सिखाती हैं. डोरंडा इलाके की रहने वाली राफिया नाज़ योग सिखाकर अपनी आजीविका चलाती हैं. योग सिखाना जारी रखने पर उन्हें फतवे के जरिये धमकाया गया है. वह अपने घर में बच्‍चों में सबसे बड़ी हैं और एक स्थानीय कॉलेज से एम.कॉम कर रही हैं. 2015 में योग गुरु रामदेव के साथ मंच साझा करने के बाद नाज चर्चा में आई थीं.

राफिया नाज ने एसएसपी कुलदीप द्विवेदी से भी मुलाकात की और मामले की जानकारी दी. एसएसपी ने नाज की सुरक्षा के लिए दो अंगरक्षक भी दिए हैं. नाज को उसके समुदाय की तरफ से ही धमकियां मिलने के बाद उसके परिजन डरे हुए हैं. राफिया नाज़ ने पत्रकारों से कहा कि मेरी समस्या दोनों समुदायों के सदस्यों के साथ है. एक तरफ, मुझे योग नहीं सिखाए जाने को कहा गया है तो दूसरी तरफ मुझे अपना नाम बदलने के लिए कहा गया है ताकि लोग मुझसे योग सीखने में संकोच न करें. हालांकि नाज ने कहा है कि मैं योग करना जारी रखूंगी और जीवन के अंत तक योग सिखाती रहूंगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here