शिक्षा पर खर्च के मामले में बहुत पीछे है भारत

education

मुंबई। भारत में अभिभावक अपने बच्चे की शिक्षा पर प्राइमरी से लेकर ग्रेजुएट डिग्री तक औसतन 18,909 डॉलर (करीब 12.22 लाख रुपये) खर्च करते हैं. यह वैश्विक स्तर पर औसत खर्च 44,221 डॉलर (करीब 28.40 लाख) के मुकाबले काफी कम है. इसमें बच्चे की शिक्षा की पूरी लागत शामिल हैं. एचएसबीसी के एक अध्ययन में यह जानकारी दी गई है. 15 देशों से जुड़े इस सर्वे में भारत का स्थान 13वां हैं. उसके पीछे केवल मिस्र और फ्रांस हैं.

रोजगार में भारी स्पर्धा के कारण अभिभावक अपने बच्चे को जिंदगी में अच्छी से अच्छी शुरुआत देने के लिए समय और पैसे खर्च करने को तैयार हैं. वे अपने खर्चों में कटौती करके इसके लिए पैसे जुटाते हैं. एचएसबीसी इंडिया में रिटेल बैंकिंग ऐंड वेल्थ मैनेजमेंट के हेड एचएसबीसी की ‘वैल्यू ऑफ एजुकेशन’ रिपोर्ट में 15 देशों के 8,481 अभिभावकों की राय को शामिल किया गया.

इनमें ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, चीन, मिस्र, फ्रांस, हॉन्ग कॉन्ग, भारत, इंडोनेशिया, मलेशिया, मेक्सिको, सिंगापुर, ताइवान, यूएई, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं. भारत में खर्च कब 89% अभिभावक बच्चे की शिक्षा के मौजूदा दौर में उसे फंड मुहैया कराते हैं 94% अभिभावक अपने बच्चे की पोस्ट ग्रैजुएट शिक्षा को लेकर विचार कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here