पानी की छीटें पड़ने पर ठाकुरों ने किशोरी सहित दलितों को पीटा

छपरा। सारण जिले के अमनौर प्रखंड के परशुरामपुर गांव में रास्ते पर लगे पानी का छीटा पड़ने पर दबंगों ने दलितों की जमकर पीटायी कर दी है. इस बर्बरता से करीब छह दलित बुरी तरह ज़ख्मी हो गए हैं. इसको लेकर स्थानीय थाने में 14 लोगों पर एससी, एसटी अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज किया गया है.

पीड़ितों ने बताया कि परशुरामपुर दियर से रामचंद्र राम का पुत्र पप्पु कुमार राम घास लेकर घर वापस लौट रहा था. इसी रास्ते से ध्रुप सिंह का पुत्र मिथिलेश कुमार सिंह भी आ रहा था. सड़क पर पानी जमा होने के कारण गलती से मिथिलेश कुमार पर पानी का थोड़ा छिटें पड़ गई. इस बात पर आक्रोशित होकर उच्च जाति के लोगों ने जाति-सूचक शब्दों का प्रयोग करते हुए पप्पु कुमार राम की जमकर पिटाई कर दी. इसके बाद दलित बस्ती के लोगों ने जब घटना का विरोध किया तो उनकी भी गोलबंद होकर जमकर पिटाई कर दी गई. इसके बाद करीब दो बजे राजू राम की पुत्री जब मजदूरी मांगने गई तो राकेश सिंह व अरूण सिंह ने अभद्र व्यवहार करते हुए उसकी भी पीटाई कर दी. कई दलितों के झोपरीनुमा घर भी उजार दिया गया है.

घटना के बाद दलितों में भय व्याप्त हो गया है. इस घटना में छह दलित घायल हो गए है. इन सभी दलितों का इलाज़ अमनौर पीएचसी में किया जा रहा है. इसके बाद पप्पु मांझी के बयान पर स्थानीय थाने में ध्रुप सिंह, मिथिलेश सिंह, राहुल सिंह, रत्नेश सिंह, मनु सिंह, राकेश सिंह, अरूण सिंह, रणवीर सिंह, कन्हैया सिंह, बिट्‌टू सिंह, रामदरन सिंह, जितेन्द्र सिंह, शेरू सिंह, साहेब सिंह समेत 14 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. इस बावत थानाध्यक्ष से पुछे जाने पर उन्होंने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है और किसी भी सूरत में आरोपियों को नहीं बख्शा जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here