दलितों-आदिवासियों को मिलने वाली योजना का लाभ हड़प रहे हैं नौकरशाह और ग्राम प्रधान

रीवा प्रोटेस्ट

रीवा। राष्ट्रीय दलित महासभा के कार्यकर्ताओं ने रीवा जिले के तहसील कार्यालय नईगढ़ी का घेराव और विरोध प्रदर्शन किया. कार्यकर्ताओं में शासन की योजनाओं का लाभ दलितों को न मिलने पर निराशा है. दलित महासभा ने प्रदर्शन से पहले प्रशासन और सरकार के विरोध में रैली निकाली.

दलित महासभा ने कहा कि दलितों को सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है. नौकरशाह उनका हक और अधिकार हड़प रहे हैं, इस पर रोक लगनी चाहिए. महासभा का कहना है कि सैकड़ों सालों से उनका जहां पर घर बना है वहां का पट्टा नहीं दिया जा रहा है.

एक कार्यकर्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ भी नहीं दिया जा रहा है. उनके उत्थान के लिए जो भी पैसा आ रहा है उसे पंचायतों द्वारा हजम कर लिया जाता है. गरीब होने के बाद भी गरीबी रेखा में नाम नहीं जोड़ा जा रहा है. कार्यकर्ता का कहना है कि वे जहां रहते हैं उस जमीन का उनको तत्काल पट्टा दिया जाए.

दलित महासभा की के विरोध प्रदर्शन में सैकड़ों गांव की आदिवासी महिलाएं भी आईं. आदिवासी महिलाओं ने बताया कि उनका पुश्तैनी कच्चा मकान बना हुआ है, लेकिन सरकार ने आज तक उनको पट्टा नहीं दिया है. सरपंच लोग भेदभाव कर रहे हैं. गरीबी रेखा में नाम तक नहीं जोड़ा जा रहा है. जिससे योजनाओं से हम वंचित हैं. हमारी मांगों पर प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here