बंदूक के बल पर दलित छात्रा के साथ जातिवादियों ने किया गैंगरेप

मैनपुरी। यूपी में दलितों पर अत्याचार बढ़ता ही जा रहा है. सबका साथ सबका विकास वाली भाजपा सरकार जातिवादियों को रोकने में नाकाम साबित हो रही है. आए दिन दलित महिलाओं से बलात्कार की घटनाएं सामने आ रही है. ताजा घटना मैनपुरी के कुरावली थाना क्षेत्र की है. कुरावली क्षेत्र के एक गांव में जातिवादियों ने 12वीं कक्षा की दलित छात्रा के साथ तमंचे के बल पर गैंगरेप किया.

छात्रा शर्म और डर के चलते दो दिन तक पुलिस के पास शिकायत करने नहीं जा सकी. लेकिन दो दिन बाद उसने हिम्मत दिखाई और अपनी मां से जिक्र किया तो माँ ने उसका हौसला बढ़ाया और बुधवार को पुलिस के पास जाकर शिकायत दर्ज कराई. पुलिस अब मामले की जांच करने में जुटी है.

कुरावली थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाले 17 वर्षीय छात्रा के पिता तथा परिवार के अन्य सदस्य धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए किशनी गए थे. 9 जुलाई को छात्रा घर पर अपनी विकलांग दादी के साथ घर पर ही थी. रात के लगभग 9 बजे दादी मकान के बाहर पड़े छप्पर में तथा छात्रा कमरे के अंदर सो रही थी. तभी कुंडी के खटकने की आवाज आई तो छात्रा को लगा कि दादी हैं. उसने किवाड़ खोल दिए तभी बाहर खड़े गांव के ही सुभाष उर्फ शीलू पुत्र नरेंद्र ठाकुर और शिवा पुत्र भूपेंद्र सिंह घर के अंदर जबरन घुस गए.

इसके बाद सुभाष ने तमंचा दिखाकर छात्रा को हत्या की धमकी दी और दुष्कर्म किया. इसके बाद दोनों युवक छात्रा को धमकी देते हुए फरार हो गए. बाद में घर पहुंचे परिजनों में मां को छात्रा ने रोते हुए अपनी आप बीती बताई. परिजन छात्रा को लेकर बुधवार की दोपहर थाना पहुंचे. पीड़िता की मां द्वारा थाना में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है. पुलिस अब मामले की जांच करने में जुटी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here