भोपाल गैंगरेप: 3 आरोपी गिरफ्तार और 4 पुलिस अधिकारी निलंबित

Gangrape

भोपाल। भोपाल गैंगरेप मामले में चार पुलिस अधिकारी निलंबित किए गए हैं और शहर के एसपी का तबादला कर दिया है. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि इस मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी. इस मामले में पुलिस ने अब तक 3 लोगों को अरेस्ट किया है. जीआरपी के एएसपी धर्मेंद्र सिंह ने शुक्रवार को बताया कि तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि एक आरोपी की पहचान की जा रही है.

आईजी पुलिस मकरंद देवस्कर ने बताया, रिपोर्ट दर्ज करने में देरी को लेकर टीआई रवींद्र यादव (हबीबगंज), संजय सिंह बैस (एमपी नगर), मोहित सक्सेना (जीआरपी थाना) और दो एसआई को सस्पेंड किया गया है. वहीं, सीएसपी एमपी नगर कुलवंत सिंह को हटाकर पीएचक्यू अटैच किया है.

गैंगरेप मामले को लेकर शिवराज सिंह ने डीजीपी समेत आला पुलिस अफसरों की इमरजेंसी मीटिंग बुलाई. सीएम ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि ऐसे मामलों में पुलिस को फौरन एक्शन लेना चाहिए. लापरवाही से काम करने वाले पुलिसवालों के खिलाफ कार्रवाई हो. रिपोर्ट दर्ज करने में 24 घंटे क्यों लगे इसका जवाब दिया जाए.

गुरुवार को इंसानियत को शर्मसार करते हुए एक छात्रा के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया था. आरपीएफ में कार्यरत अस्सिटेंट सब इंस्पेटर की 19 साल की बेटी का आरोप है कि कोचिंग क्लास से वापस घर लौटते वक्त उसके साथ 4 लोगों ने गैंगरेप किया. इस मामले में भोपाल की एसपी जीआरपी, अनीता मालवीय ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 डी, 394, 34 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here