कांग्रेस जीएसटी समारोह का बहिष्कार करेगी

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी ने साफ कर दिया है की जीएसटी लागू करने के लिए 30 जून की आधी रात को आयोजित किए जा रहे समारोह में हिस्सा नहीं लेगी. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने आधी रात के कार्यक्रम को गरिमा के खिलाफ बताया. इसके लिए समारोह का कोई आयोजन नहीं होना चाहिए
मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए आजाद ने कहा कि जीडीपी गिरावट पर सरकार का कोई ध्यान नही है. सरकार बहरी हो गयी है उसे चीख पुकार सुनाई नहीं देती. कांग्रेस के साथ ही कुछ अन्य दलों ने भी इस समारोह में शामिल नहीं होने का फैसला किया है. ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने भी साफ कर दिया है कि पार्टी समारोह में हिस्सा नहीं लेगी.

कांग्रेस ने इससे पहले बुधवार को उन्होंने आमंत्रण पत्र को लेकर भी आपत्ति दर्ज की थी.  जिसमें कहा गया है कि देश के इतिहास के सबसे बड़े कर सुधार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लॉन्च करेंगे. देश की प्रमुख विपक्षी पार्टी का कहना है कि यह उद्घाटन राष्ट्रपति को करना चाहिए. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, “राष्ट्रपति की मौजूदगी में जीएसटी को प्रधानमंत्री कैसे लॉन्च कर सकते हैं. यह कतई सही नहीं है.

गौरतलब है कि एक जुलाई को पूरे देश में एकीकृत टैक्‍स के रूप में लागू होने जा रहे जीएसटी के मद्देनजर 30 जून की आधी रात को संसद में खास कार्यक्रम का आयोजन होगा. इसके तहत राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पीएम मोदी ठीक रात के 12 बजे app के जरिये जीएसटी लांच करेंगे. यह कार्यक्रम 30 तारीख की रात 11 बजे से 12:10 बजे तक चलेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here