लोकसभा स्पीकर ने 6 सांसदों को किया सस्पेंड

नई दिल्ली। संसद के मॉनसून सत्र के छठे दिन आज शून्यकाल के दौरान सदन की कार्यवाही बाधित करने का प्रयास करने वाले छह सांसदों को पांच बैठकों के लिए लोकसभा से निलंबित कर दिया गया. इसके साथ ही लोकसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दी गयी. स्पीकर सुमित्रा महाजन ने बताया, ‘गौरव गोगोई और के सुरेश समेत कई सदस्यों ने कागज फेंके. कामकाज में व्यवधान डालने के लिए 6 सदस्यों को नियम 374 (ए) के तहत सदन की पांच बैठकों से निलंबित किया जाता है.

स्पीकर ने निलंबित सांसदों का नाम – अधीर रंजन चौधरी, रंजीत रंजन, एम के राधवन, सुष्मिता देव का नाम बताते हुए कहा कि इन सबने जानबूझ सदन की कार्रवाई में बाधा डाली. स्‍पीकर ने आगे बताया कि सदन के काम में रुकावट डालने और अशोभनीय आचरण के लिए कांग्रेस के छह सदस्य का निलंबन पांच बैठकों तक जारी रहेगा.

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खडगे ने कांग्रेस सांसदों के निलंबन को अनुचित बताते हुए कहा, ‘यह प्रजातंत्र के लिए सही नहीं है. ऐसे कई उदाहरण हैं जब सदस्यों ने नियमों का उल्लंघन किया है. इसका समर्थन नहीं करता हूं लेकिन ऐसी सख्त कार्रवाई सही नहीं है, इस मुद्दे पर हम सभी गांधी प्रतिमा के नीचे विरोध प्रदर्शन करेंगे.‘

वहीं इस घटना पर दुख व्‍यक्‍त करते हुए लोकसभा स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा, ‘प्रश्‍नकाल को बाधित नहीं किया जाना चाहिए. मैंने खडगे जी को कहा था कि प्रश्‍न काल के बाद उन्‍हें बोलने का मौका दिया जाएगा. वेल में हंगामा करना अनुशासन के खिलाफ तो है ही उसपर कागज फाड़ कर चार बार स्‍पीकर पर फेंकना अशोभनीय हरकत है.‘ उन्‍होंने आगे बताया, सांसदों ने मेरे टेबल पर से फाइलें ली। ये सब ऑफिशियल कागजात थे. ऐसा करना अपराध है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here