बिहारः जातिवादी गुंडों ने दलित टोले में घुसकर की महिलाओं से मारपीट और फायरिंग

मुजफ्फरपुर। पताही स्थित नवराष्ट्र उच्च विद्यालय में बेंच पर बैठने को लेकर छात्रों के दो गुटों के बीच हुए विवाद में एक गुट विशेष के छात्रों का समर्थन करते हुए लोगों ने दलित टोले में घुसकर मारपीट की. घटना बुधवार की सुबह साढ़े नौ बजे की है. इस दौरान दो राउंड हवाई फायरिंग भी की गई. मारपीट में तीन महिला समेत सात लोग जख्मी हो गये. सभी को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

घटना के विरोध में पताही दलित टोले के लोगों ने रेवा रोड एनएच 102 को पताही के समीप जाम कर कार्रवाई की मांग करते हुए प्रदर्शन किया. छात्रों को सौंपने की मांग करने लगे. लेकिन स्कूल प्रशासन ने गेट नहीं खोला. मौके पर पहुंची सदर थानाध्यक्ष मंजू सिंह व जिला पार्षद कुमोद पासवान ने सभी को समझा-बुझाकर शांत कराया. थानाध्यक्ष ने कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम खत्म कराया.

दलित टोले के लोगों का आरोप था कि एक जाति विशेष के छात्र दलित छात्रों को स्कूल में फर्श पर बैठने को कहते हैं. नीचे नहीं बैठने पर मारपीट पर उतारू हो जाते हैं. मंगलवार को विवाद होने पर देख लेने की धमकी दी गई थी. बुधवार की सुबह 15-20 की संख्या में पहुंचे लोगों ने दलित टोले में घुसकर मारपीट शुरू कर दी. इससे टोले में अफरातफरी मच गई. वहीं दलित छात्रों का आरोप था कि इतना सब कुछ होने के बाद भी स्कूल के शिक्षक इसकी अनदेखी करते हैं. लोगों ने स्कूल के शिक्षक पर भी कार्रवाई की मांग की.

वहीं सदर थानाध्यक्ष ने स्कूल पहुंचकर एचएम विनोद कुमार ठाकुर से पूरे मामले की जानकारी ली. एचएम का कहना था कि स्कूल के छात्रों के साथ कुछ बाहरी लड़के भी यहां आकर बैठ जाते हैं. उनकी पहचान नहीं हो पाती है. वे ही स्कूल को बदनाम करने में लगे हैं. छात्रों के साथ भेदभाव की बात से उन्होंने इनकार किया. कहा कि छात्रों को यदि कोई अन्य छात्र परेशान करते हैं तो उन्हें इसकी जानकारी देनी चाहिए थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here