गोरखपुर कांडः क्लीनिक के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर चुराने के आरोप में डॉ. कफील गिरफ्तार

गोरखपुर।बीआरडी मेडिकल कॉलेज के इन्सेफलाइटिस वॉर्ड के इंचार्ज रहे डॉक्टर कफील खान को यूपी एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया है. एसटीएफ अब उन्हें गोरखपुर पुलिस को सौंपेगी. बीआरडी मेडिकल कॉलेज मामले में अब तक कुल 9 लोग आरोपी बनाए गए हैं.

डॉ. कफील खान को लखनऊ से पकड़ा गया है. कफील को यूपीएसटीएफ ने एक सूचना के आधार पर धर दबोचा. वो पिछले पंद्रह दिनों से फरार चल रहे थे. वह मेडिकल कॉलेज के बालरोग विभाग के अध्यक्ष थे. बीआरडी अस्पताल में 10 अगस्त की रात 30 अधिक बच्चों की मौत मामले में डॉक्टर कफील पर यह कार्रवाई की गई है. आरोप है कि ऑक्सिजन की कमी से इन बच्चों की मौत हुई, हालांकि अस्पताल प्रशासन और राज्य सरकार इस बात से इनकार करता रहा है.

DIG एसटीएफ मनोज तिवारी ने कहा कि कफील के लखनऊ और गोरखपुर स्थित घर से कुछ ऐसी बातें पता चलीं, जिनसे लगता है कि अन्य आरोपों के अलावा बच्चों की मौत में भी वह दोषी हैं.

गौरतलब है कि डॉ. कफील उस समय सुर्खियों में आए थे जब मीडिया में इस तरह की खबरें आई थीं कि ऑक्सिजन की कमी के वक्त वह खुद अपनी गाड़ी से अपने दोस्तों और निजी अस्पतालों से ऑक्सिजन सिलिंडर लेकर बीआरडी अस्पताल पहुंचे थे. उस वक्त कफील की छवि एक ‘मसीहा’ के तौर पर सामने आई. हालांकि, बाद में कफील पर प्राइवेट अस्पताल चलाने सहित कई गंभीर आरोप लगे.

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में मौत का तांडव जारी है. बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 29 अगस्त की रात 12 बजे से 30 अगस्त की रात 12 बजे तक 24 घंटे में 13 बच्चों की मौत हुई है. इनमें एनआईसीयू में 08 और पीआईसीयू में अलग-अलग बीमारियों से 5 बच्चों की मौत हुई है. बता दें कि एनआईसीयू में कुल 114 और पीआईसीयू में 240 मरीज भर्ती हैं. अगस्त महीने में अब तक 399 बच्चों की मौत हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here