जातिवादी गुंडों ने फूंके महादलितों के 70 घर

खगाड़िया, बिहार

पटना। देशभर में एकतरफ जहां दीवाली का जश्न मना रहा था वहीं दूसरी तरफ सुशासन बाबू नीतीश कुमार के राज में महादलितों पर अत्याचार हुआ. बिहार के खगड़िया जिले के छमसिया गांव में जातिवादी गुंडों ने महादलित परिवारों पर हमला कर दिया. इस हमले में जातिवादी गुंडों ने लगभग 70 घरों को आग लगा दी. कई परिवार बेघर हो गए. पीड़ित लोग अपने परिवार के साथ सड़क पर आ गए. लगभग 70 परिवार सड़क पर रहने को विवश हैं.

बताया जाता है कि इस इलाके में जमीन के कब्जे और वर्चस्व को लेकर दो जातियों में पहले से विवाद चला आ रहा था. दीपावाली से एक दिन पहले शाम को जातिवादियों ने महादलित परिवारों को डराने और दहशत फ़ैलाने के उद्देश्य से घटना को अंजाम दिया. जातिवादी गुंडों ने महादलितों के लगभग 70 घरों में आग लगा दी. और दहशत फ़ैलाने के लिए कई राउंड गोलियां भी चलाईं.

गांव के ही रहने वाले 50 वर्षीय अर्जुन सदा ने बताया कि घर में जितना समान था जल गया. करीब 50 की संख्या में लोग गोली चलाते हुए आए और एक तरफ से घरों में आग लगाना शुरू किया. इससे घर में रखा सारा समान जल गया. दो बकरियां भी जल गई.

घटना के बाद पीड़ित परिवारों के घर के बच्चे भूख से तड़प रहे हैं. पीड़ित परिवारों के घरों के साथ-साथ खाने-पीने का समान भी जल गए. अन्न का एक भी दाना नहीं बचा है. हालांकि घटना के बाद जिला प्रशासन ने कुछ राहत सामग्री वितरित की है. लेकिन अपना सबकुछ आग में जलता देखकर उनके आंखों के आंसू रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं. घटना से पीड़ित परिवार काफी डरे हुए हैं.

खगड़िया एसपी मीनू कुमारी ने कहा कि जिन लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया उनकी पहचान कर प्राथमिकी दर्ज की जा रही है. साथ ही कड़ी कार्रवाई का भरोसा भी पीड़ित परिवारों को दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here