दलित शिक्षक की पिटाई के विरोध में इन दो संगठनों ने खोला मोर्चा

kalyan

भिंड। मध्यप्रदेश के भिंड में भीम सेना और राष्ट्रीय अत्याचार निवारण मोर्चा 10 नवंबर को जनाक्रोश रैली और धरना प्रदर्शन करेगी. यह धरना प्रदर्शन हाल ही में सवर्णों द्वारा हुई दलित टीचर की पिटाई के विरोध में किया जाएगा. यह धरना प्रदर्शन एक रैली के रूप में चंदनपुरा अटेर रोड से शहर के कई रास्तों से होती हुई कलैक्ट्रेट कार्यालय के सामने धरना स्थल पर समाप्त होगी.

दरअसल दो नवंबर को कुछ जातिवादियों ने अटेर तहसील के खेरी गांव के रहने वाले कल्याण सिंह जाटव और उनके पुत्र महादेव सिंह की सरेआम पिटाई कर दी थी. टीचर का कसूर महज इतना भर था कि उसने अपनी मर्जी से मनपसंद उम्मीदवार को वोट डाला था. अटेर में हुए उपचुनाव में खुद को गांव के ठेकेदार समझने वाले जातिवादी गुंडे ये चाह रहे थे कि टीचर वहीं वोट डाले जहां वे चाह रहे हैं. लेकिन मनुवादियों की मंशा पूरी न हो सकी जिसके बाद उन्होंने अध्यापक की पिटाई कर दी. पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया.

घटना के बाद अध्यापक को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है, जहां पर उनकी हालत अब पहले से बेहतर बताई जा रही है. इधर पुलिस ने भी आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और जल्द से जल्द मामले की जांच कर कार्रवाई करने का भरोसा दे रही है. लेकिन पुलिस के रवैये को देखते हुए दलित समाज के लोगों को पुलिस पर भरोसा नहीं है, जिसके बाद उन्होंने विरोध प्रदर्शन का तरीका अपनाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here