भीम आर्मी और चंद्रशेखर रावण को लेकर बड़ी खबर

सहारनपुर। भीम आर्मी भारत एकता मिशन सहारनपुर द्वारा आज 9 नवम्बर को सहारनपुर में रखा गया कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया है, हालांकि संस्थान के पदाधिकारी प्रशासन को अपना ज्ञापन देंगे. यह जानकारी संस्थान के सदस्यों ने दी.
प्रेस रिलिज जारी कर उन्होंने मांगे पूरी नहीं होने पर 3 दिसम्बर को सहारनपुर में बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी दी है. संस्था के सदस्यों ने कहा कि अगर प्रशासन ने हमारी मांगे नहीं मानी तो हम इतना बड़ा आंदोलन करेंगे जिसका अंदाजा देश के प्रधानमंत्री भी नहीं लगा सकते.

असल में निकाय चुनाव के कारण सहारनपुर में धारा 144 लगी हुई है, ऐसे में धरना के लिए ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर कार्यवाही की आशंका थी, जिसको देखते हुए यह फैसला लिया गया है. भीम आर्मी के पदाधिकारियों का कहना है कि हम लोग हमेशा संविधान के दायरे में रहकर काम करते हैं तो हमें आचार संहिता का ध्यान रखते हुए और प्रशासन का सम्मान करते हुए ये फैसला करना पड़ा. उन्होंने कहा कि चंद्रशेखर रावण भी ऐसा ही चाहते थे.

इस बीच चंद्रशेखर आजाद रावण को लेकर बड़ी खबर यह आ रही है कि उनपर से जल्दी ही रासुका हटाया जा सकता है. भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने प्रशासन के आश्वासन के बाद यह बात कही है. उनका कहना है कि प्रशासन द्वारा एडवोकेट चंद्रशेखर, विनय रत्न औऱ मंजीत नोटियाल पर की गई कार्रवाई बेबुनियादी है. संस्थान के पदाधिकारियों का कहना है कि हमारे कहने पर प्रशासन ने चंद्रशेखर रावण को इलाज के लिए मेरठ भेज दिया जहां उनकी हालत में काफी सुधार है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here