दलितों के बाल काटने से नाई का इंकार

लखीमपुर खीरी। बदलते भारत के दौर में बदलाव प्रत्येक जगह देखने को मिला रहा है पर नहीं बदलती तो वह दलितों की स्थिति, यह जस की तस नजर आती है इसका ताजा उदहारण उत्तर प्रदेश का है जहां दलितों के साथ छुआछुत आम है.

मैगलगंज थाना क्षेत्र के गांव ककरहा निवासी वाल्मीकि समाज के एक व्यक्ति के दाढ़ी-बाल बनाने से एक नाई द्वारा इनकार किए जाने का मामला सामने आया है. पीड़ित ने जातिसूचक गालियां देकर धमकाने का भी नाई पर आरोप लगाया है. मामले में पुलिस ने कार्रवाई नहीं की, तो पीड़ित ने डीएम से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है.

ककरहा गांव निवासी संतोष कुमार वाल्मीकि ने डीएम को दिए शिकायती पत्र में बताया है कि 17 जुलाई को वह अपनी बहन के घर जा रहा था. रास्ते में पसगवां थाना के गांव मछेछा में बस से उतरकर सेविंग कराने के लिए नाई की दुकान पर बैठ गया. आरोप है कि नाई ने उसे जातिसूचक गालियां देते हुए सेविंग करने से इंकार कर दिया. विरोध करने पर पिटाई की धमकी भी दी.

इसके बाद संतोष ने मोहम्मदपुर ताजपुर चौकी पुलिस को तहरीर दी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई. फिर पसगवां के प्रभारी निरीक्षक को तहरीर दी गई. कोई कार्रवाई न होते देख पीड़ित ने डीएम से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here