BJP ने पूर्व सीएम आनंदीबेन का टिकट काटा

गुजरात। गुजरात विधानसभा चुनाव में टिकट बंटवारे को लेकर भारी घमासान के बीच बीजेपी ने अपनी छठी और आखिरी लिस्ट जारी कर दी है. इस लिस्ट में 34 उम्मीदवारों का ऐलान किया गया है. इसी के साथ बीजेपी ने गुजरात की सभी 182 विधानसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है. आज ही नामांकन का आखिरी दिन है. इस लिस्ट में पूर्व सीएम आनंदीबेन पटेल का नाम शामिल नहीं है, उनकी जगह भूपेंद्र पटेल को टिकट दिया गया है. आनंदीबेन पटेल ने पहले ही चुनाव लड़ने से मना किया था.

भारतीय जनता पार्टी की पहली सूची के बाद ही बगावत और खींचतान का जो दौर शुरू हुआ था, वो नामांकन के आखिरी दिन तक जारी है. कांग्रेस भी इस चुनौती का सामना कर रही है. आज दूसरे चरण के चुनाव के लिए नामांकन का आखिरी दिन है. गुजरात में दो चरणों में ही मतदान होना है, ऐसे में आज सभी 182 सीटों पर उम्मीदवारों के नामांकन हो जाएंगे. इससे पहले 147 उम्मीदवारों के नाम घोषित किए जा चुके थे.

फोन पर पर्चा भरने के निर्देश

इससे पहले खबर थी कि पार्टी में बगावत के सुर इतने तेज हो गए थे कि नामांकन के अंतिम दिन तक सारे उम्मीदवारों के नाम सार्वजनिक नहीं किए गए थे. कार्यकर्ताओं और नेताओं के सीधे विरोध से बचने के लिए प्रत्याशियों को फोन कर नामांकन भरने के लिए कहा गया.

बता दें कि बीजेपी ने अपनी शुरुआती पांच सूचियों में 147 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी थी. पार्टी ने चार पाटीदारों को टिकट दिए हैं, जिनमें नरणभाई पटेल, रमणभाई पटेल, वल्लभ ककड़िया और पंकज देसाई शामिल हैं.

कई नेताओं ने छोड़ी पार्टी

इससे पहले बीजेपी की पहली लिस्ट आने के बाद खुलकर बगावत सामने आई थी. पार्टी कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर उतरकर टिकट कटने का विरोध किया था. यहां तक कि एक मौजूदा सांसद ने अपनी पत्नी को टिकट न मिलने पर उसे निर्दलीय चुनाव लड़ाने की घोषणा कर दी तो पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं ने भी अपने बेटे का टिकट कटने के बाद उसे निर्दलीय चुनाव लड़ाने का ऐलान किया था.

कांग्रेस में भी विरोध

कांग्रेस ने रविवार को जैसे ही 76 उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट जारी की, इसके बाद कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया है. कार्यकर्ताओं ने अहमदाबाद की अमरायवाड़ी सीट से अरविंद सिंह चौहान को टिकट दिए जाने पर कड़ा विरोध जताया है. नाराज कार्यकर्ताओं ने गांधीनगर स्थित पार्टी दफ्तर के बाहर पुतला जलाया और जमकर तोड़फोड़ की. कांग्रेस की तीसरी लिस्ट में बनासकांठा के 2 विधायक के नाम भी काटे गए हैं, इन दोनों ने ही राज्य सभा चुनाव में अहमद पटेल को वोट दिया था. पहले अहमद पटेल को वोट देने वाले सभी 43 विधायकों को फिर से टिकट देने का भरोसा दिया गया था. इस वजह से भी कार्यकर्ताओं में रोष है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here